सैन फ्रांसिस्को:अमेरिका के कैलिफोर्निया के जंगल में लगी भीषण आग में मरने वालों की संख्या बढ़कर 80 हो गई है, जबकि लापता लोगों की संख्या बढ़ कर अब 993 पर पहुंच गई है. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. अमेरिका के इतिहास में ये अब तक की सबसे भयावह जंगली आग (दावानल) है इसे ‘कैंप फायर’ की संज्ञा दी गई है. इन आंकड़ों में अभी और इजाफा होने की सम्भावना से इंकार नहीं किया जा सकता है. सैकड़ों की तादाद में लोगों ने शेल्टर होम में शरण ले रखी है.

कैलिफोर्निया के जंगलों में आग लगने से अब तक 80 लोगों की मौत हो चुकी है और 993 लोग अभी भी लापता हैं. प्रशासन ने यह जानकारी दी. बट काउंटी शेरिफ ऑफिस के अनुसार, कैलिफोर्निया में 1 लाख 49 हजार एकड़ कैंप फायर में रविवार शाम तक 77 लोगों की मौत हो चुकी थी और 97 हजार घर तबाह हो गए थे.

सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, आठ नवंबर को ही लॉस एंजेलिस के पश्चिमोत्तर से शुरू हुई दक्षिण कैलिफोर्निया में वूल्से फायर के नाम से प्रसिद्ध दूसरी आग में कम से कम तीन लोगों की मौत हो चुकी है और लगभग 96,000 एकड़ से ज्यादा क्षेत्र को जला दिया है. राज्य की वन एवं अग्नि रक्षक एजेंसी कैल फायर के अनुसार, वूल्से फायर 88 फीसदी तक नियंत्रित हो गई है. लेकिन कैल फायर के अनुसार, कैंप फायर रविवार शाम तक मात्र 65 फीसदी नियंत्रित हुई है और यह 30 नवंबर तक पूरी तरह नियंत्रित नहीं होगी. अधिकारियों ने कहा कि कैलिफोर्निया के इतिहास की सबसे खतरनाक आग कैंप फायर से मरने वालों की संख्या और बढ़ सकती है. प्रशासन ने इस त्रासदी से प्रभावित पशुओं के लिए भी शेल्टर होम का निर्माण किया है जहां रेस्क्यू किए हुए पशु-पक्षियों को रखा जा रहा है.