न्यूयार्क: बात जब फेसबुक छोड़ने की आती है, तो यूजर्स को अपने एकाउंट को एक साल के लिए डिएक्टिवेट करने के लिए औसतन 1,000 डॉलर (70,000 करोड़ रुपए) की जरूरत पड़ेगी. ऐसा शोधकर्ताओं का कहना हैं, जिन्होंने इस आंकड़े को पाने के लिए वास्तव में नीलामी लगाई. शोधकर्ताओं ने फेसबुक पर लोगों द्वारा बिताए जा रहे वक्त का मूल्य पता करने के लिए इस प्रश्न को दूसरी तरह से पूछा कि उन्हें अगर फेसबुक छोड़ने के बदले भुगतान किया जाए तो एक दिन, एक हफ्ते, एक महीने या एक साल के लिए छोड़ने का कितना भुगतान चाहेंगे और इसकी बोली लगाई गई.

टाइम मैगजीन की टॉप 25 प्रभावशाली टीनेजर्स की लिस्ट में तीन भारतीय मूल के

नीलामी की एक श्रृंखला में लोगों को अपने खातों को एक दिन से लेकर एक साल तक की अवधि के लिए बंद करने पर वास्तव में भुगतान किया गया. शोधकर्ताओं ने पाया कि फेसबुक यूजर्स को अपने एकाउंट को एक साल के लिए डीएक्टिवेट करने के लिए औसतन 1,000 डॉलर की जरूरत होगी.

शोध के मुख्य लेखक ओहियो स्थित केनयन कॉलेज के अर्थशास्त्र के प्रोफेसर जे कॉरिगन ने बताया, “लोग फेसबुक पर रोजाना लाखों घंटे खर्च करते हैं. हम इस वक्त का डॉलर के संदर्भ में मूल्य पता लगाना चाहते थे.”

सिविल सेवा परीक्षा में सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों की आयु-सीमा घटाकर 27 करने की तैयारी 

फेसबुक के दुनिया भर में 2.2 अरब से ज्यादा यूजर्स हैं.

मिडवेस्टन कॉलेज में 122 छात्रों के बीच फेसबुक छोड़ने के लिए लगाई गई नीलामी में एक दिन के लिए औसतन 4.17 डॉलर, एक हफ्ते के लिए औसतन 37 डॉलर की बोली लगी, जिससे एक साल का औसत 1,511 से 1,908 डॉलर रहा.

Rs.5 करोड़ की फिरौती केस: 6 दिन पूछताछ के बाद भय्यू महाराज के पूर्व ड्राइवर समेत तीन आरोपी जेल पहुंचे

वहीं, मिडवेस्टन शहर में 133 छात्रों और 138 वयस्कों के बीच लगाई गई बोली में छात्रों के समूह का सालाना औसत 2,076 डॉलर और वयस्कों के समूह का औसत 1,139 डॉलर रहा. इस प्रकार से संयुक्त औसत करीब 1,000 डॉलर सालाना रहा.

अन्नाद्रमुक, टीडीपी और वाईएसआर कांग्रेस के सदस्यों ने संसद भवन परिसर में प्रदर्शन किया