प्रोविडेंस: अमेरिका में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या बुधवार को 1,50,000 हो गई. विश्व में वायरस के कारण सबसे अधिक लोगों की जान अमेरिका में ही गई है. जॉन हॉपकिन्स विश्वविद्यालय के अनुसार अमेरिका के बाद सर्वाधिक 88,000 से अधिक लोगों की मौत ब्राजील में और करीब 46,000 लोगों की जान ब्रिटेन में गई है. Also Read - TikTok पर अमेरिका की बड़ी कार्रवाई, सरकारी उपकरणों में ऐप नहीं होगा इस्तेमाल, कंपनियां बंद करेंगी ट्रांजेक्शन

उसके अनुसार अमेरिका में कोविड-19 के करीब 44 लाख मामले सामने आए हैं, यह आंकड़ा भी विश्व में सर्वाधिक है. वहीं सीमित जांच और हल्के लक्षण वाले कई मामलों का पता नहीं चलने या इन मामलों के दर्ज ना होने के कारण अमेरिका और विश्वभर में संक्रमितों की वास्तविक संख्या इन आंकड़ों के कहीं अधिक होने की आशंका है. अमेरिका में लगभग 22 लाख लोग अभी भी वायरस की चपेट में हैं. अभी तक कुल 22 लाख से अधिक लोग वायरस से ठीक हो चुक हैं. Also Read - अमेरिका भी राममय: न्यूयॉर्क टाइम्स स्क्वायर के बोर्ड पर भगवान राम और मंदिर का नक्शा

अमेरिका में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 1156 लोगों की मौत हुई है जबकि 50 हजार से अधिक कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. दुनिया में इस समय कोरोना की सबसे बड़ी मार अमेरिका में पड़ी है जबकि दूसरे नंबर पर इस समय ब्राजील है जो कि कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित हैं. Also Read - ट्रंप बोले- अमेरिका कोरोना के खिलाफ ‘बहुत अच्छा’ कर रहा, भारत में ‘जबर्दस्त समस्या’ है

आपको बता दें कि पिछले 10 दिन में अमेरिका में 10 हजार से अधिक मौते हुई हैं. अमेरिका में इस समय सबसे बुरी हालत कैलिफोर्निया और न्यूयार्क की है. यहां ही कोरोना के सबसे अधिक मामले हैं. सिर्फ कैलिफोर्निया में पांच लाख से अधिक लोग संक्रमित हैं. जबकि कोरोना के शुरुआत में सबसे अधिक प्रभावित होने वाला न्यूयार्क अब तीसरे नंबर पर आ गया है.