वाशिंगटन: पूरी दुनिया इस समय कोरोना वायरस से ग्रसित है. इस माहमारी से जहां एक तरफ लाखों लोग संक्रमित हो चुके हैं वहीं दूसरी तरफ हज़ारों लोग इस बीमारी की वजह से अपनी जान गंवा चुके हैं. लेकिन इन सब के बीच अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प अपने बयानों की वजह से लगातार ख़बरों में बने हुए हैं. Also Read - आक्रामक स्वभाव के लिए मशहूर कगीसो रबाडा ने कहा- मैं जल्दी आपा नहीं खोता हूं

ट्रंप ने हाल ही में यह दावा किया है कि मिशिगन से डेमोक्रेटिक पार्टी की एक सांसद ने कोरोना वायरस से अपनी जान बचने का श्रेय मलेरिया के इलाज में इस्तेमाल होने वाली दवा ‘हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन’ को दिया है. कोविड-19 के उपचार में ‘हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन’ के इस्तेमाल के दुष्प्रभावों पर गहन बहस के बीच, ट्रम्प लगातार इस दवा को कोविड-19 के इलाज के एक विकल्प के रूप में बढ़ावा दे रहे हैं, जबकि इस घातक वायरस के लिए अभी तक कोई सार्थक उपचार सामने नहीं आया है. Also Read - महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से अब तक 3,000 की मौत, मामले 83,000 के करीब पहुंचे

यह वायरस अब तक 12,800 से अधिक अमेरिकियों की जान ले चुका है. अमेरिका में मंगलवार को केवल एक ही दिन में 2,000 से अधिक लोगों की मौत हो गई. मिशिगन राज्य की प्रतिनिधि कैरेन व्हिटसेट ने कहा कि वह और उनके पति हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन लेना शुरू करने के बाद ही अपने जीवन को कोरोना वायरस से बचा सके. एक समाचार चैनल पर राष्ट्रपति ट्रम्प द्वारा इस दवा की बात करते देख उन्होंने अपने डॉक्टर से इसे देने के लिए कहा. Also Read - वैज्ञानिकों ने किया हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा का विश्लेषण, कोरोना मरीजों के इलाज में नहीं दिखा इस दवा का खास फायदा

ट्रम्प ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा, ‘‘इस महिला के बारे में मुझे लगा था कि शायद वह नहीं बचेंगी. वह एक डेमोक्रेट सांसद हैं, काफी सम्मानित अफ्रीकी-अमेरिकी महिला हैं… जिस तरह से उन्होंने अपनी कहानी बताई वह बहुत सुंदर है ‘‘मैंने अपने पति से जाकर यह दवा लाने को कहा. उन्हें वह दवा मिल गई.’’ वह अब ठीक हैं. कल रात टेलीविजन पर उनका साक्षात्कार हुआ और उनहोंने मुझे धन्यवाद दिया.’’

ट्रंप ने एक सवाल के जवाब में बताया ‘‘ महिला सांसद ने ट्वीट के जरिए भी मुझे धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि मैं राष्ट्रपति ट्रंप का धन्यवाद करना चाहती हूं . उन्होंने मेरी जिंदगी बचा ली. देखिए, मैं नहीं कहता कि हर किसी के साथ ऐसा होता है लेकिन ये एक खूबसूरत कहानी है. ऐसी बहुत सी कहानियां हैं . और मैं कहता हूं कि इसे (हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन)इस्तेमाल करके देखें.’’ लेकिन साथ ही उन्होंने कहा कि इस दवा की सिफारिश डाक्टर द्वारा किया जाना जरूरी है.

‘‘ डाक्टर से लिखवाना होगा. मैं कोई डॉक्टर नहीं हूं . मैं केवल इतना कह रहा हूं कि हमने इसके अच्छे परिणामों के बारे में सुना है. और कुछ लोगों ने कहा है कि चलिए पहले लैब में इसका परीक्षण कराएं . कुछ सालों तक इसका परीक्षण कराएं . नहीं ….इस देश में और पूरी दुनिया में लोग मर रहे हैं .’’

महिला सांसद ने डेट्रायट फ्री प्रेस जर्नल को दिए एक साक्षात्कार में बताया था कि सोमवार को उनकी जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई . और ‘हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन’ लेने के दो घंटे से भी कम समय में उन्हें बेहतर महसूस होना शुरू हो गया.