वाशिंगटन: अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को ईरान से यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया और अपने नागरिकों को सलाह दी कि वे दक्षिण कोरिया और इटली के कुछ हिस्सों में न जाएं. अमेरिका ने यह घोषणा ऐसे समय में की है जब कोरोना वायरस से देश में मौत का पहला मामला वाशिंगटन राज्य से सामने आया है. ट्रंप ने व्हाइट हाउस में संवाददाताओं से कहा कि दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक महिला की मौत हो गई और वह काफी अच्छी महिला थी. वह स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से ग्रस्त थीं. Also Read - दिल्ली के इन 14 अस्पतालों में केवल कोरोना संक्रमितों का होगा इलाज, देखें लिस्ट

अमेरिका-तालिबान ने ऐतिहासिक शांति समझौते पर किए हस्ताक्षर, खत्म होगी 18 साल लंबी खूनी जंग! Also Read - Kashi Vishwanath Temple Guidelines: काशी विश्वनाथ और अन्नपूर्णा मंदिर में दर्शन के लिए नए नियम, कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य

उन्होंने कहा कि अमेरिका में और भी मामले आ सकते हैं लेकिन स्वस्थ लोग ठीक होने में सक्षम हैं. अमेरिका में अब तक 15 लोग कोरोना वायरस से ठीक हो चुके हैं. वहीं दूसरे संवाददाता सम्मलेन में उन्होंने कहा, ‘‘ घबराने की कोई जरूरत नहीं है. हमारा देश किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार है.’’ Also Read - यूपी के CM योगी आदित्यनाथ कोरोना वायरस से संक्रमित, खुद Tweet कर दी जानकारी

इस संवाददाता सम्मेलन में शामिल होते हुए अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा कि ट्रंप ने उन विदेशी नागरिकों के अमेरिका प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया है जिन्होंने पिछले 14 दिन में ईरान की यात्रा की थी. अमेरिका ने अपने नागरिकों को सलाह दी है कि वह दक्षिण कोरिया और इटली के उन हिस्सों की यात्रा करने से बचें जहां कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं. सेंटर फॉर डिसीस कंट्रोल डायरेक्टर रॉबर्ट रेडफील्ड के अनुसार कोरोना वायरस के 22 मामले अमेरिका में अब तक सामने आ चुके हैं.