वाशिंगटन: अमेरिकी मीडिया के अनुसार ट्रंप प्रशासन अफगानिस्तान से 4,000 सैनिकों को वापस बुलाने की इस हफ्ते घोषणा कर सकता है. अमेरिका और तालिबान के बीच वार्ता एक हफ्ते पहले बहाल हुई थी क्योंकि दोनों पक्षों ने हिंसा घटाने के मार्ग पर चलने या संघर्ष विराम तक पहुंचने की इच्छा जताई थी. अफगानिस्तान में फिलहाल 13,000 अमेरिकी सैनिक हैं. एनबीसी न्यूज ने शनिवार को इस बात का जिक्र किया कि तीन मौजूदा एवं पूर्व अमेरिकी अधिकारियों ने कहा है कि ट्रंप प्रशासन का इरादा अफगानिस्तान से 4000 सैनिकों की वापसी की घोषणा करने की है.

न्यूजीलैंड: ज्वालामुखी विस्फोट में मरने वालों की संख्या बढ़कर हुई 18

वहीं, सीएनएन ने इस बात का जिक्र किया कि ट्रंप प्रशासन के एक अधिकारी ने कहा है कि (4000) सैनिकों को वापस बुलाने की घोषणा इस हफ्ते हो सकती है. वहीं इसी बीच अमेरिकी सरकार ने अपने नागरिकों को नागरिकता (संशोधन) अधिनियम, 2019 को लेकर जारी विरोध प्रदर्शनों के कारण भारत के पूर्वोत्तर राज्यों का दौरा करने के खिलाफ चेतावनी दी है. अमेरिकी दूतावास द्वारा शुक्रवार को यहां जारी एक एडवाइजरी में कहा गया है कि अमेरिकी नागरिकों को ‘नागरिकता (संशोधन) कानून’ बनाए जाने के कारण मीडिया में आ रही विरोध और हिंसा की खबरों के मद्देनजर सावधानी बरतनी चाहिए.

नेपालः बेकाबू होकर खाई में पलटी यात्रियों से भरी बस, 14 की मौत, 19 लोग घायल

अमेरिका ने कहा कि उन्होंने असम की आधिकारिक यात्रा को अस्थायी रूप से रद्द कर दिया है. एडवाइजरी में कहा गया, “इंटरनेट और मोबाइल संचार बाधित हो सकता है. इस क्षेत्र के विभिन्न हिस्सों में परिवहन प्रभावित हो सकता है. देश के अन्य हिस्सों में भी विरोध प्रदर्शन होने की खबरें हैं.” अमेरिकी नागरिकों को आसपास के माहौल के बारे में जागरूक रहने, अपडेट के लिए स्थानीय मीडिया की खबरों पर नजर रखने, व्यक्तिगत सुरक्षा योजनाओं की समीक्षा करने और अपनी सुरक्षा के संबंध में दोस्तों और परिवार को सूचित करने के लिए कहा है.