माताराम: इंडोनेशिया के लोमबोक में कई शक्तिशाली और मध्यम तीव्रता के भूकंप के झटके महसूस किए गए, जिसमें कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई. भूकंप वैज्ञानिकों ने रविवार को लगातार भूकंप के झटके दर्ज किए. पहला झटका 6.3 तीव्रता का था, जिसके बाद वहां भूस्खलन हुआ और लोग सुरक्षित स्थानों की तलाश में दौड़ पड़े.

इंडोनेशिया में फिर आया 6.9 तीव्रता का भूकंप, डरकर घरों से निकले लोग

जुलाई से अब तक 30 बार लगे भूकंप के झटके
गौरतलब है कि पांच अगस्त को भी लोमबोक में भूकंप आया था, जिसमें लाखों घर, मस्जिद और व्यावसायिक संस्थान तबाह हो गए थे और कम से कम 481 लोगों की मौत हुई थी जबकि हजारों लोग घायल हुए थे. ‘अमेरिकी जियोलॉजिकल सर्वे’ के अनुसार भूकंप के पहले झटके के बाद भूकंप का दूसरा झटका 12 घंटे के बाद महसूस किया गया, जिसकी तीव्रता 6.9 मापी गई और इसके बाद करीब पांच और तेज झटके महसूस किए गए. इंडोनेशिया में 28 जुलाई के बाद से अब तक छोटे बड़े मिला कर लगभग 30 भूकंप के झटके दर्ज हुए हैं.

इंडोनेशिया में भूकंप से मरनेवालों की संख्या 300 के पार, हजारों की तादाद में लोग विस्थापित

स्थानीय आपदा एजेंसी के प्रवक्ता अगुंग प्रामुजा के मुताबिक रविवार शाम को आए भूकंप में पांच लोगों की मौत हो गई. इनमें से दो पूर्वी लोमबोक में और तीन निकटवर्ती सुंबावा द्वीप में मारे गए. प्रामुजा ने मीडिया से कहा, अभी तक पांच लोगों की मौत हो चुकी है और सैकड़ों अन्य लोग घायल भी हैं. हम अब भी सही आंकड़ों का इंतजार कर रह हैं. तबाही के डर से अधिकारियों ने रविवार को ही कई मरीजों को सुंबावा के एक अस्पताल से सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया है. ‘ राष्ट्रीय आपदा शमन एजेंसी’ के प्रवक्ता सुतोपो पूरवो नुगरोहो के अनुसार लोमबोक में अधिकतर स्थानों पर बिजली भी आपूर्ति ठप हो गई है.