नई दिल्ली: इंडोनेशिया के लोमबोक द्वीप पर रविवार को भूकंप का तेज झटका महसूस किया गया. इससे कुछ घंटे पहले भी एक भूकंप का झटका आया था जिससे भूस्खलन हुआ था और इमारतें क्षतिग्रस्त हो गई थीं. उसके भय से लोग अपने घरों से बाहर निकल आए थे. दो सप्ताह पहले भी यहां भूकंप आया था जिसमें 480 से अधिक लोगों की मौत हो गई थी. Also Read - Indonesia earthquake: Tremor measuring 6.3 strikes off eastern coast near Molucca islands | इंडोनेशनिया में 6.4 तीव्रता का भूकंप

अमेरिकी भूगर्भीय सर्वेक्षण ने बताया कि इस भूकंप की तीव्रता 6.9 मापी गई. इसका केंद्र पूर्वी लोमबोक के बेलानतिंग नगर से करीब पांच किलोमीटर दक्षिण में जमीन से 20 किलोमीटर नीचे स्थित था. इसको लेकर सुनामी की कोई चेतावनी जारी नहीं की गई है. इस भूकंप से किसी के हताहत होने या कोई नुकसान होने की कोई सूचना नहीं है जो कि उसी जिले में आया जहां पहले भी भूकंप आया था.

एक व्यक्ति ने बताया कि भूकंप का झटका इतना जबर्दस्त था कि वह नींद से उठ गया. ए सलीम ने कहा, ‘‘भूकंप बहुत तगड़ा था. सब कुछ हिल रहा था.’’ लोमबोक पर दो सप्ताह पहले आये भूकंप से हजारों मकान, मस्जिदें और व्यापारिक प्रतिष्ठान क्षतिग्रस्त हो गए थे और साढ़े तीन लाख से अधिक लोग विस्थापित हो गए थे.

(इनपुट:एजेंसी)