ढाका: बांग्लादेश पुलिस ने विपक्षी पार्टी का समर्थन करने वाले प्रमुख समाचारपत्र के संपादक एवं वकील मोइनुल हुसैन को मानहानि के आरोप में गिरफ्तार किया है. कुछ दिन पहले ही इस संपादक को एक टेलीविजन कार्यक्रम में एक महिला पत्रकार को ‘चरित्रहीन’ कहने के लिए खूब आलोचना का सामना करना पड़ा था.

‘डेली न्यू नेशन’ के मालिक एवं संपादक हुसैन की गिनती सरकार के आलोचकों में होती है. भले ही वह किसी पार्टी से संबंध न रखते हों लेकिन उन्हें उनकी दक्षिणपंथी राजनीतिक विचारधारा के लिए जाना जाता है. पूर्व की कार्यवाहक सरकार में मंत्री के समतुल्य दर्जे के साथ एक सलाहकार के तौर पर काम कर चुके वकील को पुलिस की खुफिया शाखा ने सोमवार को गिरफ्तार किया. खुफिया शाखा के संयुक्त आयुक्त महबूब अलाल ने संवाददाताओं को बताया कि हमने रंगपुर (पश्चिमोत्तर) की एक अदालत से जारी गिरफ्तारी वारंट का अनुपालन करते हुए वकील मोइनुल हुसैन को गिरफ्तार किया.

इमरान खान ने भारत पर मढ़ा जम्‍मू-कश्‍मीर में निर्दोष हत्‍याओं का आरोप, फिर भी बोले- बातचीत हो

आज अदालत में किया जाएगा पेश
उन्होंने बताया कि पुलिस हिरासत में रखे गए हुसैन को आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए मंगलवार को अदालत में पेश किया जाएगा. हुसैन ने हाल ही में मुख्य विपक्षी दल बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी (बीएनपी) और अन्य मध्यमार्गी दलों के बीच हुए गठबंधन – यूनिटी फ्रंट को बनाने में मुख्य भूमिका निभाई थी. हुसैन बांग्लादेश के सबसे पुराने अखबारों में से एक ‘डेली इत्तेफाक’ के संपादक मंडल के पूर्व अध्यक्ष भी रह चुके हैं.

न्यूक्लियर समझौते से अमेरिका का हटना वैश्विक शांति के लिए बड़ा खतरा: रूस

‘चरित्रहीन’ कहने के लिए हुसैन के खिलाफ मानहानि का मामला
पत्रकार मसूदा भाटी को ‘चरित्रहीन’ कहने के लिए हुसैन के खिलाफ मानहानि का मामला दर्ज है. इसके अलावा महिला अधिकार समूहों ने भी उनके खिलाफ मानहानि एवं अवमानना के कई मामले दर्ज कराए हैं. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि हुसैन की टिप्पणियों के लिए उनके खिलाफ मानहानि के छह मामले दर्ज है जिनमें से तीन में उन्हें जमानत मिल गई है. (इनपुट एजेंसी)