विएनतियाने/लाओस: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने शुक्रवार को लाओस के अपने समकक्ष सालेमएक्से कोम्मासिथ से मुलाकात कर द्विपक्षीय बातचीत की. दोनों के बीच रक्षा, व्यापार, ऊर्जा और कृषि क्षेत्र में आपसी सहयोग बढ़ाने पर बातचीत हुई. सुषमा स्वराज दो दिन की लाओस की यात्रा पर हैं. वह यहां कोम्मासिथ के साथ नौंवी ‘संयुक्त आयोग की बैठक’ में हिस्सा लेंगी. दोनों नेता संबंधों और साझेदारी को और मजबूत करने की रुपरेखा पर बातचीत करेंगे.Also Read - Ukraine Crisis: अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन का दावा- 'अगले कुछ दिनों में यूक्रेन पर हमला कर सकता है रूस'

Also Read - Russia-Ukraine Crisis: यूक्रेन से भारतीयों की निकासी की अभी कोई योजना नहीं, सुरक्षा प्राथमिकता : विदेश मंत्रालय

Also Read - Karnataka Hijab Controversy: विदेश मंत्रालय की सख्त टिप्पणी-ये हमारा आंतरिक मामला है, इसमें हस्तक्षेप ना करें

सफल बातचीत

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि दोनों मंत्रियों के बीच कृषि, व्यापार और निवेश, रक्षा, शिक्षा, संस्कृति, सूचना प्रौद्योगिकी, ऊर्जा और खनन क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने को व्यापक चर्चा हुई. उन्होंने ट्वीट किया कि दोनों नेताओं की बैठक के दौरान हुई बातचीत काफी रचनात्मक रही.

प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा, ‘‘स्वराज ने लाओस में विकास की जरूरतें पूरा करने के लिए भारत के अनुभव और विशेषज्ञता को साझा करने का प्रस्ताव दिया. साथ ही 25 करोड़ डॉलर की ऋण सुविधा देने का भी प्रस्ताव किया.’’ बृहस्पतिवार को स्वराज ने यहां भारतीय समुदाय के एक कार्यक्रम में भी हिस्सा लिया था. अपनी दो दिवसीय  यात्रा के दौरान विदेश मंत्री सुषमा स्वराज लाओस के प्रधानमंत्री थॉन्गलोन सिसोलिथ से भी मुलाकात करेंगी. (इनपुट एजेंसी)

अमेरिका: मां का 95th बर्थ-डे मनाने आ रहे थे भारत, पहुंची मौत की खबर…..