वॉशिंगटन: दिग्गज लड़ाकू विमान निर्माता कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने कहा कि भारत में एफ-16 लड़ाकू विमान बनाने का उसका प्रस्ताव भारत को निर्यात केंद्र में बदल देगा. कंपनी का कहना है कि आने वाले दशकों में उसकी पहुंच 165 अरब डॉलर के लड़ाकू विमान बाजार में आसान हो जाएगी. भारत के आकर्षक रक्षा क्षेत्र पर नजर रखने वाली कंपनी ने कहा कि एफ-16 का उत्पादन भारत को दुनिया के सबसे बड़े लड़ाकू विमान तंत्र के केंद्र में खड़ा कर देगा.

कंपनी का यह भी कहना है इससे मेक इंडिया के ” बेजोड़ ” अवसर पैदा होंगे और जिससे निर्यात क्षमता को बढ़ाने में मदद मिलेगी. लॉकहीड मार्टिन के उपाध्यक्ष (रणनीति एवं कारोबार विकास) विवेक लाल ने कहा कि भारत में एफ-16 ब्लॉक 70 अब तक का तकनीकी रूप से सबसे उन्नत और सक्षम एफ -16 लड़ाकू विमान होगा.

एफ -16 ब्लॉक 70 विमान को लेकर लाल ने कहा कि इसमें अत्याधुनिक वैमानिकी टेक्नॉलिजी, एईएसए राडार, मॉडर्न कॉकपिट, हथियार और उन्नत इंजन होगा. ब्लॉक 70 मिशन प्रणाली एफ -35 से पूरी तरह से नई और प्रभावी तकनीक है. उन्होंने कहा , ” भारत में एफ -16 का उत्पादन कुछ ऐसा होगा, जो पहले कभी किसी लड़ाकू विमान निर्माता द्वारा नहीं किया गया होगा. ”

-इनपुट भाषा