सैन फ्रांसिस्को: ऐसी खबरों के बाद कि फेसबुक के मॉडरेटर घोर दक्षिणपंथी विचारों और कम उम्र वालों के अकाउंट की सुरक्षा करते हैं, अब फेसबुक का कहना है कि वह 7,500 से अधिक कंटेंट समीक्षक तैयार कर रही है, जो नफरत फैलानेवाले विचारों, आतंकवाद और बच्चों के यौन शोषण से जुड़ी सामग्रियों की उसके प्लेटफार्म पर समीक्षा करेंगे. सामग्री समीक्षक कर्मचारियों में पूर्णकालिक और ठेके के कर्मचारी शामिल हैं. इसमें फेसबुक के भागीदार कंपनियों के कर्मचारी भी होंगे, जो दुनिया के सभी टाइम जोन में 50 भाषाओं में काम करेंगे. Also Read - आ गया Facebook Shop, वर्चुअल दुकान से करें खरीदारी, जानें कैसे...?

फेसबुक के परिचालन उपाध्यक्ष एलेन सिल्वर ने शुक्रवार को एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, “इतने बड़े पैमाने पर सामग्री की समीक्षा पहले कभी नहीं की गई थी. आखिरकार इससे पहले ऐसा प्लेटफार्म भी तो नहीं था, जहां अलग-अलग भाषाओं के अलग-अलग देशों के ढेर सारे लोग आपस में संवाद करते हैं. हम इस चुनौती की विशालता और जिम्मेदारी को समझते हैं.” Also Read - 'दलितों और महिलाओं के प्रति 'नफरत फैलाने' वालों पर हो कार्रवाई, ट्विटर, वाट्सऐप, फेसबुक उठाएं कदम'

सिल्वर ने आगे कहा, “भाषा दक्षता महत्वपूर्ण है और यह हमें चौबीस घंटे सामग्री की समीक्षा करने में सक्षम बनाती है. अगर कोई हमें किसी ऐसी भाषा की सामग्री की जानकारी देता है, जिसकी हम चौबीस घंटे निगरानी नहीं कर रहे हैं, तो उसके लिए हम अनुवाद कंपनियों और अन्य विशेषज्ञों की सेवाएं लेते हैं, ताकि वे समीक्षा करने में सलाह दे सकें.” (इनपुट- एजेंसी) Also Read - Happy Birthday Mark Zuckerberg: आखिर क्यों Blue है फेसबुक का रंग, जानिए दुनिया के सबसे सफल इंसान के बारे में 8 रोचक बातें