अमेरिकी जांच एजेंसी (एफबीआई) ने कहा कि मिशिगन के गवर्नर का अपहरण करने की कथित साजिश रचने के आरोपी व्यक्ति ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा और बिल क्लिंटन सहित कई गणमान्य लोगों को धमकी देने वाली टिप्पणियां की थीं. आरोपी ने ये धमकियां ऑनलाइन दी थीं. एफबीआई के एक ऐजेंट ने संघीय अदालत में यह बात कही. Also Read - Sharad Pawar Comment on Rahul Gandhi: ओबामा के बाद अब राहुल गांधी पर शरद पवार का कमेंट, बोले- राहुल में अभी...

विशेष एजेंट क्रिस्टोफर लोंग ने कहा कि डेलावेयर के निवासी बैरी क्रॉफ्ट ने अपने फेसबुक पोस्ट में वर्तमान और पूर्व के कई निर्वाचित नेताओं के खिलाफ टिप्पणियां की थी. Also Read - भारत के बारे में ओबामा का एक और दावा, कहा- बचपन में रामायण और महाभारत की कथाएं सुनता था

क्रॉफ्ट एक चरमपंथी अर्धसैनिक समूह के छह कथित सदस्यों में से एक है. उस पर डेमोक्रेटिक गवर्नर ग्रेचेन व्हिटमर के अपहरण की साजिश रचने का आरोप है. वह कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिए गवर्नर के लॉकडाउन के आदेश के कारण उन्हें अगवा करना चाहता था. Also Read - बराक ओबामा ने राहुल गांधी को बता दिया नर्वस नेता, सोनिया गांधी के लिए लिखी ये बात...

एजेंट ने एक हलफनामा दाखिल किया जिसमें कहा गया कि आरोपी ने अपने फेसबुक अकाउंट पर ट्रंप, ओबामा, क्लिंटन और अनेक लोगों के खिलाफ धमकी भरे संदेश लिखे थे.

(इनपुट भाषा)