Also Read - कीवी कोच ने कहा, अगर इंग्लैंड के पास जोफ्रा आर्चर है तो हमारे पास लोकी फर्ग्यूसन है

वाशिंगटन, 26 नवंबर | अमेरिका के फर्ग्यूसन में हिंसा पर रोक लगाने के लिए मध्य पश्चिमी राज्य मिसौरी में मंगलवार रात अतिरिक्त सुरक्षा बलों की तैनाती की गई। अश्वेत किशोर की मौत के मामले में पुलिस अधिकारी पर मुकदमा न चलाने के न्यायालय के फैसले के खिलाफ यहां लोग प्रदर्शन कर रहे हैं। गवर्नर जे निक्सन ने मंगलवार रात कहा, “हम फर्ग्यूसन और क्षेत्र के अन्य हिस्सों में हिंसा की घटनाओं के दोहराव से बचने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बल भेज रहे हैं।” Also Read - Ferguson police officer Darren Wilson who killed Michael Brown resigns

फग्र्यूसन छोटा-सा शहर है, जिसकी 70 फीसदी आबादी अश्वेत नागरिकों की है। प्रदर्शनकारियों ने यहां पुलिस की इमारतों को जला डाला, दुकानों में लूटपाट की और मंगलवार रात यहां गोलीबारी की आवाजें सुनी गईं।  सामाजिक कार्यकर्ता भी देशभर में सड़कों पर उतर आए और देश के 37 राज्यों, वाशिंगटन और कनाडा में 130 स्थानों पर विरोध प्रदर्शन आयोजित किए गए। Also Read - Calm restored in Ferguson after days of protests

बोस्टन, बाल्टीमोर, शिकागो, लॉस एंजेलिस और न्यूयार्क से विरोध प्रदर्शन की खबरें मिली हैं।  गौरतलब है कि सोमवार रात न्यायालय ने सेंट लुईस के उपनगर फग्र्यूसन में झड़प के दौरान 18 वर्षीय माइकल ब्राउन की हुई मौत के मामले में पुलिस अधिकारी डारेन विल्सन के खिलाफ मुकदमा चलाने से इंकार कर दिया था।  एनबीसी न्यूज के मुताबिक, अधिकारियों ने बताया कि सोमवार रात आगजनी की 21 घटनाएं हुईं और 12 इमारतों को आग के हवाले कर दिया गया। इस दौरान लूटपाट की घटनाएं हुईं और गोलीबारी की आवाजें भी सुनी गईं। घटना के संबंध में 80 लोगों को गिरफ्तार किया गया, जिसमें 60 गिरफ्तारियां फर्ग्यूसन से संबंधित हैं।

सेंट लुईस काउंटी पुलिस प्रमुख जॉन बेल्मर ने बताया कि पुलिस की 10 कारें क्षतिग्रस्त हुई हैं, जिसमें से दो पूरी तरह जल गई हैं।  शिकागो में मेयर रहम इमैनुएल के दफ्तर के बाहर आयोजित 28 घंटे के धरने के लिए लगभग 100 प्रदर्शनकारी जमा हुए।  इस बीच, राष्ट्रपति बराक ओबामा ने शिकागो में लोगों से शांति बरतने की अपील की और कहा कि न्यायालय के फैसले ने कई लोगों को नाराज कर दिया है, जो अलग-अलग समुदाय के लोगों में गहरे बैठी निराशा को जाहिर कर रहा है।