पेरिस. फ्रांस की राजधानी पेरिस में 850 साल पुरानी यूनेस्को के विश्व धरोहर स्थल, नोट्रे डेम में लगी भीषण आग को मंगलवार को नियंत्रण में कर लिया गया, जबकि कैथेड्रल की मुख्य संरचना और साथ ही इसके दो टावरों को बचा लिया गया है. शहर के फायर ब्रिगेड ने इस बात की पुष्टि की है. ‘गार्डियन’ ने मंगलवार सुबह फायर ब्रिगेड के एक प्रवक्ता के हवाले से बताया, “आग पूरी तरह से नियंत्रण में है. यह आंशिक रूप से बुझ गई है, पूरी तरह से बुझाना अभी बाकी है.”

फायर चीफ जीन-क्लाउड गैलेट के अनुसार, करीब 500 दमकलकर्मियों ने बेल टावरों में से एक को ध्वस्त होने से बचाने के लिए मशक्कत की. उन्होंने कहा कि जलते हुए कैथेड्रल से कई अमूल्य कलाकृतियों को भी बचाया गया. आग सोमवार शाम को करीब 6.30 बजे लगी और जल्द ही कैथेड्रल के शानदार गोथिक शिखर तो चपेट में ले लिया, जो पूरी तरह से जल गया और छत की संरचना को भी नुकसान पहुंचा. आग की लपटों के कारण शिखर एक तरफ झुक गया और जलती हुई छत पर गिर गया. लोगों ने यह भयावह दृश्य देखा.

सीएनएन के मुताबिक, फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने कैथेड्रल के आगे के हिस्से और टावरों को बचाने के लिए दमकलकर्मियों की प्रशंसा करते हुए कहा, “सबसे बुरा होने से बचा लिया गया.” फिर भी उन्होंने कैथेड्रल को पहुंचे नुकसान पर अफसोस जताया. उन्होंने मरम्मत के लिए धन जुटाने के लिए इंटरनेशनल फंड रेजिंग कैम्पेन की घोषणा करते हुए देश को एक साथ नोट्रे डेम के पुनर्निर्माण के लिए प्रतिबद्ध होने के लिए कहा. ऑनलाइन डोनेशन के लिए एक साइट लॉन्च की गई है.

बीबीसी के मुताबिक, आग लगने का कारण सप्ष्ट नहीं है. अधिकारियों ने कहा है कि कैथेड्रल के पत्थरों में क्रैक आने के बाद इसके रिनोवेशन का काम चल रहा था. वे आग लगने की घटना को इससे जोड़कर देख रहे हैं. पेरिस प्रॉसिक्यूटर ऑफिस ने कहा कि आग लगने से हुए नुकसान की जांच शुरू कर दी गई है. वेटकिन ने कहा कि पोप फ्रांसिस आग लगने के बारे में जानकर स्तब्ध और बेहद दुखी हैं.

जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने नोट्रे डेम को ‘फ्रेंच और यूरोपीय संस्कृति का प्रतीक’ बताते हुए फ्रांस के लोगों को समर्थन की पेशकश की है. ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने ट्वीट किया, “मेरी संवेदना आज रात फ्रांस के लोगों के साथ और आपातकालीन सेवाओं के सदस्यों के साथ है जो नोट्रे-डेम कैथेड्रल में लगी भीषण आग को बुझाने की मशक्कत कर रहे हैं.”

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने हेलीकॉप्टरों से पानी की बौछार करके आग को बुझाने की सलाह दी. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा, “पेरिस से नोट्रे डेम कैथेड्रल में लगी भीषण आग की तस्वीरें देखकर भयभीत हूं, जो विश्व विरासत का एक अनूठा उदाहरण है और 14 वीं शताब्दी से खड़ा है.” नोट्रे डेम की आधारशिला 1163 में पोप अलेक्जेंडर तृतीय द्वारा रखी गई थी और कैथेड्रल 13वीं शताब्दी में बनकर तैयार हुआ.