पेरिस: फ्रांस की राजधानी पेरिस में व्यंग्यात्मक साप्ताहिक पत्रिका ‘शार्ली एब्दो’ के पूर्व कार्यालय के पास शुक्रवार को चाकू से किये गये हमले में चार लोग घायल हो गये. पुलिस ने यह जानकारी दी. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि अधिकारियों को शुरू में ऐसा लगा था कि हमले में दो लोग शामिल थे, लेकिन अब उनका मानना है कि यह सिर्फ एक व्यक्ति था और उसे पूर्वी पेरिस में बास्तील प्लाजा के पास हिरासत में ले लिया गया. Also Read - यूरोप के कई देशों में कोरोना वायरस की दूसरी लहर, स्‍पेन की मैड्रिड सिटी में इमरजेंसी लागू

हमले का मकसद अभी पता नहीं चल पाया है और यह भी स्पष्ट नहीं हो पाया है कि क्या यह घटना शार्ली एब्दो से संबद्ध है, जिसने इस्लामी चरमपंथियों द्वारा 2015 में साप्ताहिक पत्रिका के कार्यालय पर हमले के बाद यहां अपना कामकाज समेट लिया था. उस घटना में 12 लोग मारे गये थे. Also Read - कंगना रनौत को पता है फैशन सीक्रेट, बोलीं- गांव की जोकर थी, लोग हंसते थे, फिर....

अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने हमलावरों या घायलों की पहचान सार्वजनिक नहीं की है. प्रधानमंत्री जीन कास्टेक्स ने पेरिस के एक उत्तरी उपनगर की यात्रा बीच में ही रोक दी, ताकि वह घटनाक्रमों की निगरानी के लिये गृह मंत्रालय जा सकें. शाली एब्दो हमला मामले में मुकदमा शहर में चल रहा है. इस घटना के सिलसिले में शुक्रवार दोपहर गवाही होनी थी. Also Read - धमाके की आवाज़ों से दहशत में आया पेरिस, अफरातफरी मची, जानें आखिर हुआ क्या

(इनपुट भाषा)