पेरिस: फ्रांस की राजधानी पेरिस में व्यंग्यात्मक साप्ताहिक पत्रिका ‘शार्ली एब्दो’ के पूर्व कार्यालय के पास शुक्रवार को चाकू से किये गये हमले में चार लोग घायल हो गये. पुलिस ने यह जानकारी दी. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि अधिकारियों को शुरू में ऐसा लगा था कि हमले में दो लोग शामिल थे, लेकिन अब उनका मानना है कि यह सिर्फ एक व्यक्ति था और उसे पूर्वी पेरिस में बास्तील प्लाजा के पास हिरासत में ले लिया गया.Also Read - फ्रांस के खेल मंत्री ने कहा- बिना वैक्सिनेशन के फ्रेंच ओपन में खेल सकते हैं नोवाक जोकोविच

हमले का मकसद अभी पता नहीं चल पाया है और यह भी स्पष्ट नहीं हो पाया है कि क्या यह घटना शार्ली एब्दो से संबद्ध है, जिसने इस्लामी चरमपंथियों द्वारा 2015 में साप्ताहिक पत्रिका के कार्यालय पर हमले के बाद यहां अपना कामकाज समेट लिया था. उस घटना में 12 लोग मारे गये थे. Also Read - देश और दुनिया में तेजी से बढ़ रहा कोरोना संक्रमण, विश्‍व में ओमीक्रोन से अब तक 108 मौतें: केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय

अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने हमलावरों या घायलों की पहचान सार्वजनिक नहीं की है. प्रधानमंत्री जीन कास्टेक्स ने पेरिस के एक उत्तरी उपनगर की यात्रा बीच में ही रोक दी, ताकि वह घटनाक्रमों की निगरानी के लिये गृह मंत्रालय जा सकें. शाली एब्दो हमला मामले में मुकदमा शहर में चल रहा है. इस घटना के सिलसिले में शुक्रवार दोपहर गवाही होनी थी. Also Read - Omicron के खतरों के बीच कोरोना का नया 'IHU' वेरिएंट आया सामने, फ्रांस में हुई पहचान; जानें कितना है घातक!

(इनपुट भाषा)