फ्रांस में डेटा निजता की निगरानी करने वाली इकाई सीएनआईएल ने गूगल पर 10 करोड़ यूरो (12.1 करोड़ डॉलर) और अमेजन पर 3.5 करोड़ यूरो (4.2 करोड़ डॉलर) का जुर्माना लगाया है. दोनों पर ये जुर्माना देश के विज्ञापन कुकीज नियमों का उल्लंघन करने के लिए लगाया गया है.Also Read - Amazon: कानूनी शुल्क में अमेजन द्वारा दिया गया पैसा घूस में बदल दिया गया : रिपोर्ट

नेशनल कमीशन ऑन इंफोर्मेटिक्स एंड लिबर्टी (सीएनआईएल) ने एक बयान में कहा कि दोनों कंपनियों की फ्रांसीसी वेबसाइट ने इंटरनेट उपयोक्ताओं से विज्ञापन उद्देश्यों के लिए ट्रैकर्स और कुकीज को पढ़ने की पूर्वानुमति नहीं ली. ये कुकीज और ट्रैकर्स व्यक्ति के कंप्यूटर में खुदबखुद सहेज ली जाती हैं. Also Read - Submarine Deal Issue: उत्‍तर कोरिया ने अमेरिका को दी जवाबी कार्रवाई की चेतावनी

बयान में कहा गया है कि गूगल और अमेजन उपयोक्ताओं को यह बताने में भी विफल रहीं कि वे इस काम के लिए इन कुकीज का उपयोग करेंगी और किस तरह उपयोक्ता इनके लिए मना कर सकते हैं. Also Read - फ्रांस ने अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया से अपने राजदूत वापस बुलाए, इस वजह से रिश्‍ते में आई बड़ी दरार

सीएनआईएल ने अनुसार, गूगल ने कूकीज के इकट्ठा किए गए डेटा से विज्ञापन की आय से प्रोफिट लिया. गूगल के इस कार्य से करीब 50 मिलियन यूजर्स पर असर हुआ.

इसके साथ ही सीएनआईएल ने दोनों कंपनियों को बदलाव के लिए तीन महीने का समय दिया है. इसमें इन कंपनियों को ग्राहकों को बताना होगा कि उनके डेटा का इसतेमाल कैसे हुआ है और वे कैसे कूकीज को मना कर सकते हैं. तीन महीने में ऐसा नहीं करने पर कंपनियों पर हर एक दिन की देरी के लिए 100,000 यूरो का जुर्माना लगाया जाएगा.

Source:PTI Hindi