Game Of Thrones: गेम ऑफ थ्रोन्स: विंटर इज़ कमिंग स्ट्रैटिजी गेम बनाने वाले चीनी गेम टाइकून लिन ची की जहर देकर हत्या कर दी गई है. उनकी क्रिसमस के दिन मौत हो गई थी,  चीन की शंघाई पुलिस ने इसकी पुष्टि की है कि उन्हें ज़हर दिया गया था.Also Read - इस एक्ट्रेस को लग गई है 'Game of Thrones' की लत, हुस्न पर मासूमियत देती है पहरा...

39 वर्षीय लिन ची, यूज़ू नाम की गेम डिवलेपर कंपनी के चेयरमेन और चीफ़ एग्जेक्युटिव थे और उन्हें कई चीनी गेम बनाने का श्रेय जाता है. उन्हें गेम ऑफ थ्रोन्स: विंटर इज़ कमिंग स्ट्रैटिजी गेम बनाने के लिए मुख्य तौर पर जाना जाता है. शंघाई पुलिस ने बयान जारी कर ची के एक अहम सहयोगी को उनकी हत्या के मामले में मुख्य संदिग्ध बताया है. हालांकि पुलिस ने उस व्यक्ति का नाम उजागर नहीं किया और उसे सिर्फ़ उसके उपनाम जू से संबोधित किया है. Also Read - क्रिस्टोफर हिव्जू के बाद अब ‘गेम ऑफ थ्रोन्स’ की यह स्टार एक्ट्रेस कोरोना वायरस से संक्रमित पाई गईं

हुरुन चाइना रिच लिस्ट के अनुसार, लिन की कुल संपत्ति क़रीब 6.8 अरब युआन यानी क़रीब एक अरब डॉलर थी. शंघाई पुलिस के मुताबिक़ ची की कंपनी के कई कर्मचारी और पूर्व कर्मचारी शुक्रवार को शोक प्रकट करने के लिए उनके दफ़्तर के बाहर इकट्ठा हुए थे. कंपनी ने अपने आधिकारिक वीबो माइक्रोब्लॉग पर एक भावनात्मक बयान भी जारी किया है और  उन्होंने लिखा, “अलविदा युवा… हम एक साथ रहेंगे, दयालु बने रहेंगे, अच्छाई पर विश्वास करते रहेंगे और जो बुरा है, उसके ख़िलाफ़ लड़ाई जारी रखें.” Also Read - 'गेम ऑफ थ्रोन्स' में स्टारबक्स के कप के बाद, फैंस ने ढूंढी एक और गलती

इस पोस्ट पर हज़ारों लोगों ने कॉमेन्ट किए और इसे वीबो पर 29 करोड़ से अधिक बार देखा गया. गेम ऑफ थ्रोन्स से जुड़े गेम के अलावा यूज़ू ने ब्रॉल स्टार जैसे कई सुपर हिट गेम भी बनाए हैं. कंपनी को चाइनीज साई-फाई उपन्यास थ्री-बॉडी प्रॉब्लम के साथ अपने कनेक्शन के लिए भी जाना जाता है और इस पर फिल्म बनाने के राइट्स उन्हीं के पास है.