नई दिल्ली: इजराइल के प्रधानमंत्री नफ्ताली बेनेट ने भारत के प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत को ‘‘अनुभवी नेतृत्वकर्ता’’ और उनके देश का ‘‘सच्चा मित्र’’ बताया. तमिलनाडु के कुन्नूर में बुधवार को भारतीय वायुसेना (आईएएफ) का एमआई-17वी5 हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था जिसमें जनरल रावत, उनकी पत्नी और सशस्त्र बलों के 11 अन्य कर्मियों की मृत्यु हो गई थी. इजराइल के शीर्ष नेतृत्व ने हेलीकॉप्टर दुर्घटना में जनरल रावत के अकस्मात निधन पर भारत सरकार और लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की.Also Read - Padma Awards 2022: पद्म पुरस्कारों की घोषणा, जनरल बिपिन रावत को पद्म विभूषण, कोविड वैक्सीन निर्माताओं को पद्म भूषण; देखें पूरी List

प्रधानमंत्री बेनेट ने ट्वीट किया, ‘‘भारत में हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मारे गए लोगों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदनाएं हैं. उनकी आत्मा को शांति मिले.’’ उन्होंने कहा, ‘‘जनरल बिपिन रावत महान नेतृत्वकर्ता और इजराइल के सच्चे मित्र थे. इस कठिन घड़ी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारत के लोगों को इस दुख को सहन करने की ताकत मिले.’’ पूर्व में इजराइल के रक्षा बलों के चीफ ऑफ स्टॉफ के रूप में कार्य कर चुके रक्षा मंत्री बेनी गैंट्ज ने भी संवेदना व्यक्त की. Also Read - Remembering Muhammad Ali: जब वियतनाम युद्ध के दौरान सेना में भर्ती ना होने पर मुहम्मद अली को हुई थी पांच साल की सजा

Also Read - CDS बिपिन रावत की मौत के बाद हुई कैबिनेट मीटिंग के वीडियो से पाकिस्‍तान में हुई थी छेड़छाड़, स‍िखों को भड़काने की कोशिश

गैंट्ज ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘हादसे में प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल रावत, उनकी पत्नी एवं अन्य लोगों के मारे जाने की घटना पर मैं इजराइल के रक्षा प्रतिष्ठान की ओर से संवेदना जताता हूं और भारत के लोगों और भारतीय रक्षा प्रतिष्ठान के प्रति अपना व्यक्तिगत दुख व्यक्त करना चाहता हूं.’’

विदेश मंत्री यायर लापिड ने ट्वीट कर इस हादसे पर दुख व्यक्त किया. उन्होंने लिखा, ‘‘इजराइल के लोगों की ओर से मैं प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल रावत, उनकी पत्नी और अन्य 11 भारतीय सैन्य कर्मियों की मृत्यु पर भारत के लोगों और सरकार के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं.’’

इजराइल की संसद नेसेट के अध्यक्ष मिकी लेवी ने भी दुखद घटना पर शोक व्यक्त किया. लेवी ने लिखा, ‘‘नेसेट और इजराइल के नागरिकों की ओर से, मैं प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल रावत, उनकी पत्नी और 11 अन्य सैन्यकर्मियों के अकस्मात निधन पर भारतीय लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूं.’’

भारत में इजराइल के पूर्व राजदूत डेनियल कारमोन के मुताबिक जनरल रावत के जल्द ही इजराइल आने की संभावना थी. उन्होंने कहा, ‘‘जनरल रावत के निधन पर शोक जताता हूं. इजराइल के रक्षा प्रतिष्ठान के एक महान साथी और मित्र जनरल रावत, जिन्होंने संबंधों को मजबूत करने में योगदान दिया और जल्द ही हमारे देश का दौरा करने वाले थे. संवेदना.’’

जनरल रावत, अपनी पत्नी मधुलिका रावत के साथ बुधवार को तमिलनाडु के वेलिंगटन जा रहे थे, तभी उनका हेलीकॉप्टर उतरने से कुछ मिनट पहले दुर्घटनाग्रस्त हो गया था.

(इनपुट भाषा)