अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी के डोनाल्ड ट्रंप के हाथों करारी हार पाने वाली डेमोक्रेट उम्मीद्वार हिलेरी क्लिंटन भी अब विस्कान्सिन में दोबारा मतगणना कराने का समर्थन कर रही हैं। उनकी कैंपेन ऑफिशियल मार्क एलियास ने इस बात की जानकारी दी है। विस्कान्सिन इलेक्शन बोर्ड ने यहां पर दोबारा मतगणना करने को मंजूर कर लिया है। ग्रीन पार्टी की उम्मीद्वार जिल स्टेन ने यहां पर दोबारा मतगणना करवाने के लिए दरखास्त दी थी।

ग्रीन पार्टी से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार जिल स्टेन ने मतों की दोबारा गिनती का दबाव बनाया था। वह मिशिगन और पेंल्सिवेनिया में भी मतों की दोबारा गिनती की मांग कर रही हैं। आपको बता दें अमेरिका में 8 नवंबर को हुए राष्ट्रपति चुनाव में ट्रंप ने पेनसिलवेनिया और विस्कॉन्सिन में अप्रत्याशित रूप से बहुत कम मतों के अंतर से हिलेरी क्लिंटन पर जीत दर्ज की थी। मिशिगन में भी उनकी जीत का अंतर बहुत कम था।

ग्रीन पार्टी की तरफ से वोटों की दोबारा गिनती की याचिका राज्य के चुनाव आयोग ने स्वीकार कर ली है। हिलेरी क्लिंटन के अभियान दल ने सुबह कहा था कि वे लोग ग्रीन पार्टी की ओर से मतों की दोबारा गिनती में शामिल होंगे। इसके अलावा वो मिशिगन और पेनसिलवेनिया में भी मतों की दोबारा गिनती का समर्थन करेंगे। यह भी पढ़ें: पुलिस की वर्दी में जेल पहुंचे और खालिस्तानी सरगना सहित छह कैदियों को भगाया

गौरतलब है कि अरबपति ट्रंप अपनी जीत से पहले लगातार चुनाव में धांधली का आरोप लगा रहे थे। लेकिन अब उन्होंने एक बयान में जोर देकर कहा कि चुनौती और गाली देने के बजाय चुनाव परिणाम का सम्मान किया जाना चाहिए। निर्वाचित राष्ट्रपति ने आरोप लगाया कि यह स्टाइन ने मतदान की दोबारा गिनती कराने के बहाने अपने खजाने को भरने के लिए 70 लाख डॉलर की तुलना में 59 लाख डॉलर जुटाए हैं।
ट्रंप ने ग्रीन पार्टी की प्रत्याशी की ओर से दोबारा मतदान की याचिका डालने के एक दिन बाद कहा, ‘लोगों ने मतदान कर दिया है और अब चुनाव खत्म हो गए हैं। हिलेरी क्लिंटन ने खुद ही चुनाव वाली रात यह बात स्वीकार की थी।’