पेशावर: पाकिस्तान में खैबर-पख्तूनख्वाह प्रांत की असेंबली में सत्तापक्ष और विपक्ष दोनों तरफ के सदस्यों ने एक हिंदू सदस्य को शपथ लेने से रोक दिया. उस पर एक सिख सदस्य की हत्या का आरोप है. प्रांतीय असेंबली के सदस्य निर्वाचित हुए बलदेव कुमार सिख जन प्रतिनिधि सरदार स्वर्ण सिंह की हत्या के मामले में जेल में बंद हैं. उनको शपथ लेने की इजाजत मिली थी. Also Read - Pakistan: PM इमरान खान ने 178 वोटों से नेशनल असेम्‍बली में विश्‍वासमत जीता

कुमार जब प्रांतीय असेंबली में पहुंचे तो विपक्षी सदस्यों ने शपथ लेने की इजाजत के स्पीकर के फैसले का विरोध किया. सत्तापक्ष के सदस्य भी इस विरोध में शामिल हो गए. Also Read - चीन से दान किए गए टीकों के भरोसे पाकिस्तान, कोरोना वैक्सीन नहीं खरीदेगी इमरान सरकार!

इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के सदस्य अरबाब जहांदाद खान ने कुमार की तरफ जूता फेंका जो उनसे कुछ दूरी पर गिरा. कई अन्य सदस्यों ने असेंबली के एजेंडे की प्रतियां भेजीं. कुमार शपथ नहीं ले सके और उनको जेल वापस ले जाया गया. Also Read - US ने एलओसी के जरिए आतंकवादियों की घुसपैठ की कोशिशों की निंदा की