पेशावर: पाकिस्तान में खैबर-पख्तूनख्वाह प्रांत की असेंबली में सत्तापक्ष और विपक्ष दोनों तरफ के सदस्यों ने एक हिंदू सदस्य को शपथ लेने से रोक दिया. उस पर एक सिख सदस्य की हत्या का आरोप है. प्रांतीय असेंबली के सदस्य निर्वाचित हुए बलदेव कुमार सिख जन प्रतिनिधि सरदार स्वर्ण सिंह की हत्या के मामले में जेल में बंद हैं. उनको शपथ लेने की इजाजत मिली थी.

कुमार जब प्रांतीय असेंबली में पहुंचे तो विपक्षी सदस्यों ने शपथ लेने की इजाजत के स्पीकर के फैसले का विरोध किया. सत्तापक्ष के सदस्य भी इस विरोध में शामिल हो गए.

इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के सदस्य अरबाब जहांदाद खान ने कुमार की तरफ जूता फेंका जो उनसे कुछ दूरी पर गिरा. कई अन्य सदस्यों ने असेंबली के एजेंडे की प्रतियां भेजीं. कुमार शपथ नहीं ले सके और उनको जेल वापस ले जाया गया.