पेशावर: पाकिस्तान के पेशावर शहर में बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता राज कपूर के पैतृक आवास के पास स्थित एक ऐतिहासिक इमारत ढहा दी गई जिससे दो सरकारी विभागों के बीच विवाद उत्पन्न हो गया है. इस इमारत के स्थान पर एक कमर्शियल प्लाजा बनेगा. पुरातत्व विभाग का कहना है कि यह पेशावर शहर का गौरव थी और पुरातत्व विभाग कानून के तहत इसका संरक्षण करना चाहता था. Also Read - पुण्यतिथि: कुछ ऐसा था राज कपूर के स्पॉटबॉय से गॉडफादर बनने तक का सफर, थप्पड़ ने निभाया था अहम रोल

पुरातत्व विभाग ने इमारत के मालिक और इवैक्वी ट्रस्ट प्रोपर्टी के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. ट्रस्ट ने इमारत को गिराने के लिए अनापत्ति प्रमाण पत्र (एनओसी) जारी किया था. पुलिस ने अभी इस मामले में कोई एफआईआर दर्ज नहीं की है. Also Read - Happy Birthday: राज कपूर की फिल्म ठुकराने वाली सुचित्रा सेन को 'पारो' के किरदार ने बना दिया था फेमस, जानें उनके जीवन से जुड़ी कुछ बातें

पुरातत्व विभाग ने खान रजीक पुलिस थाने के एसएचओ को लिखे एक पत्र में कहा कि साल 1830-60 के बीच निर्मित यह इमारत लकड़ी की वास्तुकला का बेजोड़ नमूना थी. यह पेशावर शहर का गौरव थी और पुरातत्व विभाग कानून के तहत इसका संरक्षण करना चाहता था. Also Read - ब्लश पिंक लहंगे में आलिया ने उड़ाए फैंस के होश, इन तस्वीरों को आप भी दे बैठेंगे दिल

इमारत को गिराने का मामला तब प्रकाश में आया जब एक सिविल सोसायटी के कार्यकर्ता डॉ. अली जान ने कुछ दिनों पहले सोशल मीडिया पर इस मुद्दे को उठाया.