इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की कश्मीर मुद्दे पर भड़काऊ बयानबाजी जारी है. उन्होंने एक बार फिर ‘कश्मीर में खूनखराबे की आशंका’ जताई है. पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार, कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 को रद्द किए जाने के 75 दिन पूरे होने के अवसर पर इमरान ने शुक्रवार को ट्वीट में कश्मीर की स्थिति पर अपनी सोच के हिसाब से बात रखी. कश्मीर में कहीं भी घेराबंदी (सीज) नहीं की गई है लेकिन अपने ट्वीट में इमरान ने कश्मीर में घेराबंदी होने की बात कही और लिखा कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बात का डर है कि कश्मीर में घेराबंदी के हटते ही वहां खूनखराबा होगा.

इमरान ने ट्वीट में ‘कश्मीरियों के साथ एकजुटता’ जताते हुए कहा कि मोदी को लगता है कि वह कश्मीर पर आधिपत्य के अपने एजेंडे को लागू करने के लिए ताकत के जोर पर कश्मीरियों को चुप करा ले जाएंगे.

इमरान ने लिखा- मोदी बाघ की सवारी कर रहे हैं. उन्हें लगता है कि वह नौ लाख सैनिकों के बल पर अपने आधिपत्य के एजेंडे को पूरा करने के लिए कश्मीरियों को चुप करा ले जाएंगे. आपको आतंकवाद से लड़ने के लिए नौ लाख सैनिकों की जरूरत नहीं होती. आपको इनकी जरूरत अस्सी लाख कश्मीरियों को खौफजदा करने के लिए होती है.

इस बीच, रेडियो पाकिस्तान ने बताया कि शुक्रवार को पूरे पाकिस्तान में कश्मीरियों से एकजुटता के लिए कश्मीर दिवस मनाया गया. पाकिस्तानी समयानुसार अपरान्ह तीन बजे साइरन बजा जिस पर लोगों ने खड़े होकर कश्मीरियों के साथ एकजुटता प्रदर्शित की.

(इनपुट-आईएएनएस)