कराची: पाकिस्तान लोन के जाल में पूरी तरह से फंस चुका है. दरअसल अब पाकिस्तान इतनी तंगहाली में आ चुका है कि उसके पास वैक्सीन खरीदने तक के पैसे नहीं बचे हैं. कभी पाकिस्तान सऊदी तो कभी UAE से फंड की मांग कर रहा है. वहीं पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अब इस बात को कबूल कर लिया है कि पाकिस्तान में अब और कर्ज लेने की स्थिति नहीं रह गई है.Also Read - पाकिस्तान के पीएम इमरान खान हुए बागी, बोले- पद छोड़ने पर किया मजबूर तो हो जाऊंगा खतरनाक

इमरान खान ने बताया कि पेट्रोलियम उत्पादों की कीमत बढ़ाए जाने के बाद इमरान ने कहा कि तेल की कीमतों में बढ़ोत्तरी का बोझ भी पाकिस्तान की जनता पर डालना पड़ा ताकि और अधिक कर्ज के बोझ से बचा जा सके. बता दें कि इमरान खान ने एक निजी न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में इस बात को कबूला कि अब पाकिस्तान के पास और कर्ज लेने के लिए पैसे नहीं बचे हैं. Also Read - Covaxin And Covishield: विशेषज्ञ समिति ने कोविशील्ड और कोवैक्सीन को खुले बाजार के लिए सिफारिश की

इमरान खान ने नए पाकिस्तान के निर्माण की बात कही थी लेकिन उनके कार्यकाल में पाकिस्तान में मंहगाई और भी बढ़ चुकी है. वहीं बीते दिनों पाक सेना प्रमुख सऊदी के प्रिंस से मिलने गए थे, जहां प्रिंस ने सेना प्रमुख से मिलने तक से इनकार कर दिया था. बता दें कि पाकिस्तान में स्थिति इतनी खराब हो चुकी है कि वे वैक्सीन भी अपनी जनता के लिए नहीं खरीद पा रहे हैं. Also Read - Pakistan: PM इमरान खान और रक्षा मंत्री परवेज खट्टक के बीच जमकर हुई बहस, ये है मामला

बता दें कि हाल ही में पाकिस्तान के एख विमान को मलेशिया ने अपने कब्जे में ले लिया क्योंकि विमान को पाकिस्तान सरकार ने किराए पर लिया था. किराया न चुका पाने की एवज में मलेशिया ने विमान को अपने कब्जे में ले लिया. बता दें दूसरी तरफ भारत का मित्र देश सऊदी अरब भी अब पाकिस्तान से कर्जा वापस मांग रहा है, जिसके बाद पाकिस्तान की परेशानियां बढ़ती जा रही हैं.