काठमांडू: नेपाल के प्रधानमंत्री के. पी. ओली ने रविवार को कहा कि नेपाल के विकास में भारत न सिर्फ अहम भागीदार है बल्कि वह कारोबार, पारगमन और प्रौद्योगिकी जैसे कई क्षेत्रों में सबसे बड़ा मित्र है तथा कई क्षेत्रों में आपसी समझ दोनों देशों को ‘‘फायदेमंद स्थिति’’ में लाने का काम करेगी. भारत के 71वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर अपने संदेश में ओली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भारत सरकार और समूचे विश्व में रह रहे भारतीयों को उनके बेहतर स्वास्थ्य, खुशी एवं निरंतर समृद्धि के लिए शुभकामनाएं दीं. Also Read - India vs England, 3rd Test: इंग्लैंड ने भारत में अपना दूसरा छोटा स्कोर बनाया; अक्षर के नाम दर्ज हुआ ये कीर्तिमान

नेपाल के प्रमुख अखबारों में रविवार को प्रकाशित अपने संदेश में उन्होंने कहा, ‘‘भारत नेपाल के विकास का न सिर्फ अहम भागीदार है बल्कि वह कारोबार, पारगमन, निवेश, बुनियादी ढांचा, प्रौद्योगिकी, ऊर्जा, शिक्षा, स्वास्थ्य और कई और क्षेत्रों के संदर्भ में सबसे बड़ा मित्र देश भी है.’’ Also Read - Edible oil export to India : भारत को खाद्य तेल का निर्यात कर सकता है बांग्लादेश

उन्होंने कहा, ‘‘हमारा मानना है कि कृषि, रेलवे और जलसंपर्क, बुनियादी ढांचा, ऊर्जा एवं अन्य क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग की तलाश के साथ हाल के वर्षों में दोनों पक्षों से उच्च स्तरीय यात्राओं ने दोनों देशों के बीच सदियों पुराने आत्मीय संबंध को और प्रबल किया है.’’ Also Read - India ने Imran Khan के एयरक्राफ्ट को श्रीलंका जाने के लिए अपने एयरस्‍पेस का उपयोग करने की इजाजत दी

ओली ने कहा, ‘‘हमारा मानना है कि इन क्षेत्रों पर आपसी समझ दोनों देशों को फायदेमंद स्थिति में लाएंगे और यह देश के लोगों को समृद्ध बनाने एवं उनकी खुशहाली की दिशा में ‘समृद्ध नेपाल, खुशहाल नेपाल’ के दृष्टिकोण को हकीकत में लाने में हमारा सहयोग करेगा.’’

(इनपुट भाषा)