इस्लामाबाद: कश्मीर मसले को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ने के बावजूद दोनों देशों के अधिकारी शुक्रवार को मिल कर करतारपुर गलियारा परियोजना पर बातचीत करेंगे. पाकिस्तान विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैजल ने कहा कि दोनों पक्षों के बीच शुक्रवार को बोर्डर स्थित जीरो प्वाइंट पर तकनीकी बैठक होगी.

पाकिस्तान ने करतारपुर कॉरिडोर पर 90 प्रतिशत कार्य पूरा किया: रिपोर्ट

फैजल ने गुरुवार को यहां इस संबंध में जानकारी देते हुए कहा कि पाकिस्तान के प्रस्ताव से भारत सहमत है और करतारपुर साहिब गलियारे को लेकर तकनीकी बैठक 30 अगस्त को जीरो प्वाइंट पर होने जा रही है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अपने प्रधानमंत्री की घोषणा के अनुसार, करतारपुर साहिब गलियारे को पूरा करने और इसका उद्घाटन करने को लेकर प्रतिबद्ध है. पाकिस्तान ने कहा कि वह सीमापार करतारपुर गलियारा परियोजना का काम जारी रखेगा और सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक देव की 550वीं जयंती पर नवंबर में इसे खोलेगा.

करतारपुर कॉरिडोर पर काम में तेजी, पर शारदा मंदिर की अनदेखी कर रही पाकिस्तान सरकार

पाकिस्तान में रावी नदी के तट पर स्थित करतारपुर गुरुद्वारा भारत के गुरुदासपुर जिला स्थित डेरा बाबा नानक श्राइन से करीब चार किलोमीटर दूर है और यह लाहौर से करीब 120 किलोमीटर उत्तर-पूर्व में अवस्थित है. गुरु नानक 1939 में अपने मुत्यु र्पयत वहां 18 साल तक रहे थे. इसी महीने नई दिल्ली द्वारा जम्मू-कश्मीर के विशेष राज्य का दर्जा समाप्त करने के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते में खटास बढ़ गई.