India China News: भारत और चीन के बीच तनातनी चल रही है. इस बीच चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने सेना को युद्ध की तैयारियां तेज करने का आदेश भी दिया है. तमाम खबरों के बीच क्या आप जानते हैं कि ये विवाद आखिर क्यों है?Also Read - गणतंत्र दिवस Special-गाडिय़ों की झाँकी-Watch Video

क्या है विवाद
मौजूद विवाद लद्दाख पर है. विदेश मंत्रालय की ओर से एलएसी को लेकर अभी तक जो एक बयान जारी किया गया है उसमें भारतीय सैनिकों की गश्त में चीनी सैनिकों की ओर से रुकावट डालने की बात की गई थी. Also Read - PM Narendra Modi ने क्रिस गेल-जोंटी रोड्स को भेजा खास संदेश, दी गणतंत्र दिवस की बधाई

हालांकि चीन ने इससे इनकार किया है. इसके बाद बीते सप्ताह तीन अलग-अलग बयानों में चीन के विदेश मंत्रालय की ओर से भारतीय सैनिकों पर सीमा उल्लंघन का आरोप लगाया गया. Also Read - Republic Day Parade 2022: जानिए कहां और कैसे देखें गणतंत्र दिवस परेड की LIVE स्ट्रीमिंग

इस विवाद पर जहां भारत सरकार की ओर से काफी कम बयान आए हैं वहीं चीनी मीडिया में इसे लेकर काफी सुर्खियां हैं. वहां की मीडिया इसे डोकलाम से भी कहीं ज्यादा बड़ा विवाद बता रही हैं.

विवादित आदेश
सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ की खबर के मुताबिक, शी ने सेना को आदेश दिया कि वह सबसे खराब स्थिति की कल्पना करे, उसके बारे में सोचे और युद्ध के लिए अपनी तैयारियों और प्रशिक्षण को बढ़ाए, तमाम जटिल परिस्थितियों से तुरंत और प्रभावी तरीके से निपटे. साथ ही पूरी दृढ़ता के साथ राष्ट्रीय सम्प्रभुता, सुरक्षा और विकास संबंधी हितों की रक्षा करे.

सीमा का हाल
दोनों देशों के सैनिकों को एलर्ट पर रखा गया है. चीन ने सीमा के पास गश्त बढ़ा दी है. खबरें आ रही हैं कि भारी वाहन, हथियार तैनात किए गए हैं. भारतीय सेना भी चौकस है.