India China Standoff Live Updates: पूर्वी लद्दाख में चीन के सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प के मामले में अमेरिका के एक शीर्ष सीनेटर ने भारत के लोगों के साथ एकजुटता दिखाई और कहा कि भारत ने यह स्पष्ट कर दिया है कि वह बीजिंग से डरेगा नहीं.Also Read - चीन की सत्‍तारूढ़ CPC ने माना, पीपल्स लिबरेशन आर्मी पर उसका नियंत्रण कुछ समय के लिए कमजोर पड़ा था

रिपब्लिकन सीनेटर मार्को रुबियो ने अमेरिका में भारत के राजदूत तरणजीत सिंह संधू से बात की और चीन के साथ हुई हिंसक झड़प के मामले में भाारत के लोगों के प्रति एकजुटता व्यक्त की. Also Read - भारत और अमेरिका के संबंधों का महत्वपूर्ण स्तम्भ है शिक्षा: राजदूत संधू

फ्लोरिडा के सीनेटर ने ट्वीट किया, ‘‘ भारत ने यह स्पष्ट कर दिया है कि वह बीजिंग से डरेगा नहीं. ’’ Also Read - Ladakh Standoff: लद्दाख में डिसइंगेजमेंट प्रक्रिया शुरू, LAC पर सहमति के बाद पीछे हट रहीं भारतीय और चीनी टैंकें - देखें Video

वहीं सीनेट में बहुमत के नेता मिच मैक्कोनेल ने एक हफ्ते से भी कम समय में दूसरी बार चीन पर आरोप लगाया कि उसने भारत के खिलाफ आक्रामकता की है.

इससे पहले सीनेटर टॉम कॉटन ने भी भारत के खिलाफ हिंसक रवैये को लेकर चीन की निंदा की थी.

शीर्ष रिपब्लिकन सीनेटर ने कहा था कि चीन ने जापानी क्षेत्रों में अपनी पनडुब्बी घुसपैठ और भारत के साथ उच्च स्तर पर हिंसक झगड़ों को फिर से शुरू कर दिया है.