वॉशिंगटन: विदेश मंत्री एस जयशंकर ने यहां कहा कि भारत ने रूस से एस-400 मिसाइल प्रणाली खरीदने के अपने फैसले से ट्रंप प्रशासन को अवगत करा दिया है और उन्होंने भरोसा जताया कि अमेरिका इसके औचित्य को समझेगा.Also Read - बाढ़ आने में क्या है चांद का रोल? 2030 तक बदतर होगी स्थिति; ऑस्ट्रेलिया पर मंडराया खतरा

रूस के एक पत्रकार ने ‘एस-400 ट्राइअम्फ’ मिसाइल रक्षा प्रणाली खरीदने के फैसले के कारण भारत पर सीएएटीएसए के तहत अमेरिकी प्रतिबंध लगाए जाने की आशंकाओं के बारे में सवाल किया, जिसके जवाब में जयशंकर ने कहा, ‘भारत ने एस-400 पर फैसला कर लिया है और हमने अमेरिकी सरकार से भी इस पर बात की है. मैं उन्हें समझाने-बुझाने की अपनी क्षमता को लेकर आश्वस्त हूं.’ Also Read - Tokyo Olympics 2020: जीत के बाद बोलीं Mirabai Chanu- खुश हूं, सालों का सपना सच हुआ

जयशंकर ने एक शीर्ष अमेरिकी थिंक टैंक ‘सेंटर फॉर स्ट्रैटेजिक एंड इंटरनेशनल स्टडीज’ के कार्यालय में यहां कहा, ‘मुझे उम्मीद है कि लोग यह बात समझेंगे कि खासकर यह सौदा हमारे लिए कितना महत्त्वपूर्ण है, इसलिए मुझे लगता है कि मुझसे किया गया आपका यह प्रश्न काल्पनिक है.’ Also Read - Tokyo Olympics 2020: कभी वेटलिफ्टर नहीं बल्कि तीरंदाज बनना चाहती थीं Mirabai Chanu