इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पंजाब और खैबर पख्तूनख्वा प्रांतों के अधिकारियों ने सतलुज और अलची बांध में पानी छोड़े जाने के बाद बाढ़ से संबंधित अलर्ट जारी किया है. डॉन न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब के प्रांतीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (पीडीएमए) ने सोमवार को भारत द्वारा नदी में पानी छोड़े जाने के बाद सतलुज में बढ़ते जलस्तर के कारण बाढ़ का अलर्ट जारी किया है.

रिपोर्ट में कहा गया कि पंजाब के पीडीएमए ने सोमवार को जिले के गंडा सिंह वाला गांव में 125,000 और 175,000 क्यूसेक के बीच बाढ़ का पानी पहुंचने की संभावना जताई है. इसके अलावा संबंधित एजेंसियों को सुरक्षात्मक उपाय करने के लिए निर्देश भी दिए गए हैं. पीडीएमए खैबर पख्तूनख्वा के महानिदेशक ने रविवार को कहा कि भारत की ओर से अचानक अलची बांध में पानी छोड़ा गया है, जिससे सिंधु नदी में बाढ़ की स्थिति पैदा हो सकती है.

उन्होंने विभिन्न प्रांतीय उपायुक्तों को एक चेतावनी जारी करते हुए एक पत्र लिखा है. इसमें कहा गया है कि पानी को तारबेला बांध तक पहुंचने के लिए 12 घंटे लगेंगे, जबकि डेरा इस्माइल खान तक पानी पहुंचने में लगभग 15 से 18 घंटे का समय लगेगा. अधिकारी ने प्रांतीय अधिकारियों को किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए सिंधु नदी के पास निगरानी करने के निर्देश दिए हैं. साथ ही एहतियात के तौर पर नौकाएं और तैराक का इंतजाम करने को भी कहा गया है.

पीएम मोदी ने ट्रंप से फोन पर आधे घंटे तक की बात, बताईं कश्मीर को लेकर बौखलाए पाक की करतूतें