दुबई. हजारों लोगों को अपने चुटकुलों और व्यंग्य भरे कमेंट्स से हंसाने वाला एक स्टैंड-अप कॉमेडियन नहीं रहा. भारत में जन्मा और सरहद पार जाकर नाम और शोहरत कमाने वाले मंजूनाथ नायडू (Manjunath Naidu) की उसी मंच पर मौत हो गई, जिस पर खड़े होकर वह लोगों को अपनी बातों से ठहाके लगाने को मजबूर कर देता था. उसकी मौत पर वे तमाम दर्शक और श्रोता दुखी हैं, जिन्हें उसके कमेंट्स और चुटकुलों पर कहकहे लगाने की आदत थी. भारतीय मूल के इस स्टैंड-अप कॉमेडियन की दुबई में यहां खचाखच भरी भीड़ के सामने अभिनय करते समय तनाव और बेचैनी के कारण मंच पर ही मौत हो गई.

मीडिया में आई एक खबर के अनुसार, 36 वर्षीय मंजूनाथ नायडू (Manjunath Naidu) को शुक्रवार को मंच पर अभिनय करते समय दिल का दौरा पड़ा. खलीज टाइम्स की खबर के अनुसार, उन्होंने बेचैनी की शिकायत की और बगल में रखी बेंच पर बैठ गए तथा मंच पर गिर पड़े. दर्शकों को लगा कि यह भी उनके हास्य कलाकारी का हिस्सा है. मंजूनाथ नायडू का जन्म अबू धाबी में हुआ था लेकिन बाद में वह दुबई में बस गए. खबर में उनके दोस्त और साथी हास्य कलाकार मिकदाद दोहदवाला के हवाले से कहा गया है, ‘‘उनका अभिनय आखिरी था. वह मंच पर गए और अपनी कहानियों से लोगों को हंसा रहे थे. वह अपने पिता और अपने परिवार के बारे में बात कर रहे थे. फिर उन्होंने एक कहानी सुनाई कि वह कैसे तनाव और बेचैनी से गुजरे. कहानी सुनाने के एक मिनट के भीतर ही वह गिर पड़े.’’

उन्होंने बताया कि लोगों को लगा कि यह उनके अभिनय का हिस्सा है. उन्होंने इसे मजाक के तौर पर लिया. दोहदवाला ने बताया कि डॉक्टर उसे बचा नहीं पाए. उन्होंने कहा, ‘‘उनके माता-पिता का देहान्त हो चुका है और परिवार में केवल एक भाई है. यहां कोई रिश्तेदार नहीं है. कला और हास्य की दुनिया के क्षेत्र से जुड़े सभी लोग उनका परिवार हैं.’’

(इनपुट – एजेंसी)