लंदन: ब्रिटेन में सबसे लंबे समय से सेवा देने वाले भारतीय मूल के सांसदों में से एक रहे कीथ वाज को संसद ने छह महीनों के लिए निलंबित कर दिया है. वह पुरुष वेश्याओं के लिए कोकीन खरीदने की ‘‘इच्छा व्यक्त’’ करते पाये गए. संसद की मानदंड समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि लेबर पार्टी के गोवा मूल के 62 वर्षीय सांसद ने पुरुष वेश्याओं के लिए कोकीन खरीदने की ‘‘इच्छा व्यक्त’’ करके कानून की ‘‘अवहेलना’’ की है. इसके बाद सांसदों ने बृहस्पतिवार को निलंबन को मंजूरी दे दी.

कड़े शब्दों में दी गई रिपोर्ट में इस सप्ताह कहा गया कि इस बात के पुख्ता सबूत है कि लीसेस्टर ईस्ट से सांसद वाज ने अपने आचरण की जांच के दौरान मदद नहीं की. लेबर पार्टी ने कहा कि वह निलंबन की सिफारिश को स्वीकार करती है. उसने इसे अपने लिए दुखद दिन बताया. लेबर पार्टी की शैडो गृह मंत्री डायने एबॉट ने बताया कि वाज को 12 दिसंबर को होने वाले चुनाव में लीसेस्टर ईस्ट से पार्टी की उम्मीदवारी छोड़ देनी चाहिए. यह सीट 1987 से उनके पास है.

वाज ने रिपोर्ट आने के तुरंत बाद एक बयान में कहा कि वह बीमार होने के कारण अस्पताल में भर्ती थे. उन्होंने कहा कि वह इन घटनाक्रमों के कारण पिछले तीन वर्षों से गंभीर मानसिक समस्या से जूझ रहे हैं और उन्होंने कहा कि उन्होंने संसदीय जांच के साथ पूरा सहयोग दिया. उनके बयान में कहा गया है, ‘‘वाज इन आरोपों से सख्ती से इनकार करते हैं कि वह जांच में सहयोग करने में नाकाम रहे.’’

(इनपुट भाषा)