अमेरिका के साथ तनाव के चलते ईरान ने एक बार फिर अमेरिकी ठिकानों पर हमला किया. ईरान ने इराक में अमेरिका के सैन्य ठिकानों पर कम से कम 12 मिसाइलें दागी हैं. ईरान ने बगदाद में ऐन अल-असद समेत अमेरिका के दो सैन्य ठिकानों पर मिसाइल से हमला किया है. ईरान के इन हमलों को उसके कमांडर कासिम सुलेमानी की हत्या के बदले के तौर पर देखा जा रहा है. इस हमले की पुष्टि करते हुए अमेरिका ने कहा कि इराक में उसके दो सैन्य ठिकानों को मिसाइल से निशाना बनाया गया. बता दें कि ईरान ने यह हमला अमेरिका द्वारा जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या किए जाने के बदले में किया है. जनरल कासिम सुलेमानी की हत्या इराक के बगदाद में हुए अमेरिकी हवाई हमले में हुई थी.

अमेरिकी रक्षा अधिकारी के मुताबिक करीब साढ़े पांच बजे इराक में अमेरिकी और गठबंधन सेना के ठिकानों पर 1 दर्जन मिसाइलों से हमला किया गया है. अमेरिकी सेना बेस पर बुधवार तड़के मिसाइल हमले के बाद पेंटागन ने बयान जारी कर कहा कि वह हमले में हुए नुकसान का आकलन कर रहा है.

ईरान की एक न्यूज एजेंसी (फार्स न्यूज एजेंसी) ने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए इस हमले के बारे में बताया और इसे ‘हार्ड रिवेंज’ बताया. बताया जा रहा है कि ईरान ने हमले का कोड नेम कमांडर सुलेमान के तौर पर रखा है.