ईरान द्वारा इराक में अमेरिका के दो मिलिट्री बेस पर मिसाइल से हमले के बाद स्थिति और भी तनावपूर्ण हो चुकी हैं. ऐसे में अमेरिका भी इस हमले पर नजर बनाए हुए है. बुधवार को राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक ट्वीट किया. बता दें कि अमेरिका ने ईरान और गल्फ देशों में अपने सैन्य उड़ानों रक रोक लगा दी है.

ईरान के हमले के बाद अमेरिका राष्ट्रपति ने ट्विट कर लिखा, ऑल इज वेल.. ईरान की ओर से इराक में अमेरिका के दो सैन्य बेस पर मिसाइल दागी गई हैं. नुकसान का आंकलन किया जा रहा है. अभी तक सब ठीक है.. हमारे पास दुनिया की सबसे पावरफुल और सुसज्जित मिलिट्री है, मैं कल सुबह इस पर बयान जारी करूंगा.

अमेरिकी रक्षा अधिकारी के मुताबिक करीब साढ़े पांच बजे इराक में अमेरिकी और गठबंधन सेना के ठिकानों पर 1 दर्जन मिसाइलों से हमला किया गया है. अमेरिकी सेना बेस पर बुधवार तड़के मिसाइल हमले के बाद पेंटागन ने बयान जारी कर कहा कि वह हमले में हुए नुकसान का आकलन कर रहा है. ईरान की एक न्यूज एजेंसी (फार्स न्यूज एजेंसी) ने ट्विटर पर ट्वीट करते हुए इस हमले के बारे में बताया और इसे ‘हार्ड रिवेंज’ बताया. बताया जा रहा है कि ईरान ने हमले का कोड नेम कमांडर सुलेमान के तौर पर रखा है.