तेहरान: ईरान ने 1979 की इस्लामिक क्रांति की वर्षगांठ के अवसर पर 1,350 किलोमीटर से भी ज्यादा दूरी तक मार करने वाले नए क्रूज मिसाइल का सफल परीक्षण किया है. सरकारी टीवी चैनल ने मिसाइल परीक्षण का प्रसारण किया. टीवी के अनुसार देश के रक्षा मंत्री आमिर हातमी का कहना है, ‘‘होविज क्रूज मिसाइल का 1,200 किलोमीटर मारक क्षमता का परीक्षण सफल रहा. उसने सटीक निशाना लगाया.’’ Also Read - ब्रह्मोस की एक्सटेंडेड रेंज सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल के टेस्‍ट का वीड‍ियो सामने आया, 400 KM तक सटीक निशाना

ईरान के लंबे हाथ

उन्होंने कहा, ‘‘यह न्यूनतम समय में तैयार हो सकती है और बहुत कम ऊंचाई पर उड़ान भरता है.’’ हातमी ने होविज मिसाइलों को ईरान के लंबे हाथों की संज्ञा दी है. यह मिसाइल 2015 में 700 किलोमीटर दूरी की मारक क्षमता के साथ विकसित सुमार श्रेणी के क्रूज मिसाइलों का हिस्सा है. तेहरान में ‘रक्षा उपलब्धियों के 40 साल’ शीर्षक के तहत आयोजित रक्षा प्रदर्शनी के दौरान होविज मिसाइलों का प्रदर्शन किया गया था. ईरान में इस्लामिक क्रांति की शुरुआत और पश्चिम के प्रति साहानुभूति रखने वाले शाह को सत्ता से हटाने की वर्षगांठ के अवसर पर शुक्रवार से समारोहों का आयोजन हो रहा है. यह 10 दिन तक चलेगा.

यूरोप को खतरा

गुरुवार को हजारों की संख्या में लोग इस्लामिक क्रांति के अगुवा और मौजूदा ईरान के संस्थापक अयातुल्ला रुहोल्ला खुमैनी की कब्रगाह पर जुटे थे. ईरान ने स्वैच्छिक रूप से अपनी मिसाइलों की मारक क्षमता 2,000 किलोमीटर तक नियंत्रित की हुई है. इसके बावजूद उसकी मिसाइलें इज़राइल और मध्य एशिया में बने पश्चिमी देशों के सैन्य अड्डों तक पहुंच सकती हैं. वाशिंगटन और उसके सहयोगी देशों का आरोप है कि ईरान अपनी मिसाइल क्षमता बढ़ा रहा है जिससे यूरोप को खतरा महसूस हो रहा है. (इनपुट एजेंसी)

राष्ट्रपति पद की दावेदार हिंदू सांसद तुलसी ने कहा- आगे की लड़ाई आसान नहीं, आपका साथ चाहिए