जेरूसलम: इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू के दो सहयोगियों की हिरासत अवधि बढ़ गई है. तेल अवीव मजिस्ट्रेट की अदालत ने इजरायल की प्रमुख टेलीकॉम कंपनी बेजाक के नियंत्रक शेयरधारक शॉल इलोविच और नेतन्याहू के विश्वासपात्र एवं पूर्व मीडिया सलाहकार नीर हेफ्ट्ज की हिरासत अवधि बढ़ा दी है. वे सोमवार तक हिरासत में रहेंगे.

सिन्हुआ ने अदालत के हवाले से बताया कि वे सोमवार तक हिरासत में रहेंगे. इलोविच पर घूस में संलिप्त होने का आरोप है, जिसके चलते बेजेक को 2014 से 2017 तक संचार मंत्रालय से वर्ष नियामक और वित्तीय लाभ पहुंचा. इसके एवज में इलोविच के स्वामित्व वाली न्यूज वेबसाइट ने कथित रूप से नेतन्याहू की आलोचना करने से इनकार कर दिया और उन्हें और उनकी पत्नी सारा नेतन्याहू को अपनी खबर में सकारात्मक स्थान दिया.

पुलिस ने कहा, “बेजाक मामले में हेफ्ट्ज की भूमिका संदिग्ध है. उसके ऊपर घूस के अलग आरोप भी हैं.” अदालत ने नेतन्याहू के एक अन्य करीबी सहयोगी रहे शलोमो फिलबर की भी हिरासत अवधि बढ़ा दी है.