यरुशलम: इज़राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने सोमवार को कहा कि भ्रष्टाचार के मामले में उनके खिलाफ आरोप तय होने की स्थिति में भी वह अपने पद से इस्तीफा नहीं देंगे. नेतन्याहू ने ये स्पष्ट करते हुए कहा कि वह ‘‘चुनावों से पहले महाधिवक्ता के सामने सुनवाई के लिए बुलाए जाने के दौरान’’ इस्तीफा नहीं देंगे. औपचारिक रूप से आरोप लगाए जाने से पहले यह सुनवाई एक आवश्यक कदम है.

आधिकारिक दौरे के लिए ब्राजील के रियो डी जैनेरो में मौजूद नेतन्याहू ने ऑनलाइन प्रसारित किए जा रहे संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘मेरा इस्तीफा देने का कोई इरादा नहीं है. इसका पहला कारण यह है कि (जांच से) कुछ भी साबित नहीं होने वाला और दूसरा कारण यह है कि मैं कानून के तहत ऐसा करने के लिए बाध्य नहीं हूं.’’ इज़राइल में नौ अप्रैल को आम चुनाव होने हैं. नेतन्याहू के खिलाफ यदि कथित भ्रष्टाचार के तीन में से किसी भी मामले में आरोप तय हो जाते हैं तो भी वह इस्तीफा देने के लिए बाध्य नहीं होंगे, लेकिन उन पर ऐसा करने के लिए राजनीतिक दबाव बहुत होगा. (इनपुट एजेंसी)

बांग्लादेश चुनाव: विपक्ष ने धोखाधड़ी का लगाया आरोप, UN ने हिंसा पर जताई चिंता कहा- शिकायतों को शांति से निपटाएं