संयुक्त राष्ट्र में गलत तस्वीर दिखाने के बाद पाकिस्तान और  मलीहा लोधी की किरकिरी अब भी जारी है. संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष मिरोस्लाव लैजकक ने कहा है कि वे बैठक में गलत तस्वीरों के इस्तेमाल से निपटने के बारे में निश्चित रूप से विचार करेंगे. जब उनसे पूछा गया कि किसी बयान के संदर्भ में किसी गलत फोटो के इस्तेमाल पर क्या वह कदम उठाएंगे, इस पर लैजक ने कहा कि मैं निश्चित रूप से इस बारे में विचार करुंगा. हालांकि यह भी कहा कि यह मामला कूटनीति का है. Also Read - फूंक मारो, 50 सेकंड में हो जाएगी जांच, जल्‍द आ रही भारत- इजराइल की ऐसी COVID-19 Testing Kit

वहीं, अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त फोटोग्राफर हीदी लेवाइन ने संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की ओर से दिखाई गई लड़की की तस्वीर को लेकर अपनी नाखुशी जताई है. एएनआई से बातचीत में लेवाइन ने माना कि ये फोटो इजराइल और हमास के बीच गाजा पट्टी में संघर्ष के दौरान ली गई थी.

लेवाइन ने कहा कि मैं शुक्रगुजार हूं कि मीडिया ने इस बात को पकड़ा और उठाया. ये राव्या की मर्यादा से खिलवाड़ है जो अब भी अपने जख्मों से उबरने की कोशिश कर रही है.

यूएन में पाकिस्तान की प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने अपने भाषण में एक लड़की की तस्वीर दिखाकर कहा था कि इसका ये हश्र कश्मीर में भारतीय सेना के पैलेट गन से हुआ है. लड़की का चेहरा छर्रों से बुरी तरह क्षतिग्रस्त था और उसका दर्द साफ झलक रहा था.  

Pakistan calls India ‘mother of terrorism’, after Sushma Swaraj’s speech in UNGA | यूएन में सुषमा स्वराज के प्रहार से तिलमिलाया पाक, भारत को ही कहने लगा ‘मदर ऑफ टेररिज्म’

Pakistan calls India ‘mother of terrorism’, after Sushma Swaraj’s speech in UNGA | यूएन में सुषमा स्वराज के प्रहार से तिलमिलाया पाक, भारत को ही कहने लगा ‘मदर ऑफ टेररिज्म’

लेकिन जल्द ही पता चल गया कि ये तस्वीर कश्मीर की किसी लड़की की नहीं बल्कि राव्या अबु जोमा नाम की फलीस्तीनी लड़की की थी. राव्या गाजा पट्टी में इजराइल और हमास के बीच गोलीबारी के दौरान घायल हो गई थी.

तस्वीर दिखाते हुए लोधी ने दावा किया था , यह है भारतीय लोकतंत्र का चेहरा. बाद में खुलासा हुआ कि यह तस्वीर इजराइली हमले की कथित शिकार 17 वर्षीय राव्या अबु जोमा की है. पुरस्कार विजेता अमेरिकी फोटो पत्रकार हीदी लेवाइन ने जुलाई 2014 में ये तस्वीर ली थी. हीदी लेवाइन तब द नेशनल के लिए गाजा युद्ध को कवर कर रही थीं. यह तस्वीर कई समाचार वेबसाइटों पर उपलब्ध है.