अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव में कोरोना की वैक्सीन कब आएगी इस पर बहस छिड़ी हुई है. दरअसल एक दिन पहले राष्ट्रपति ट्रंप ने दावा किया था अक्टूबर के मध्य तक वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी. अब उनके इस दावे पर सवाल उठने लगे हैं. डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार जो बाइडेन ने कहा कि कोरोना वायरस के संभावित टीके को लेकर उन्हें वैज्ञानिकों की बात पर तो विश्वास है, लेकिन अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर नहीं. Also Read - TikTok Deal: बिक गया मशहूर चीनी ऐप टिकटॉक, ओरेकल के साथ डील Done

अमेरिका में तीन नवम्बर को होने वाले राष्ट्रपति चुनाव से पहले इन दिनों टीके का मुद्दा चर्चा का विषय बना हुआ है. बाइडेन ने कोरोना वायरस के संभावित टीके पर जन स्वास्थ्य विशेषज्ञों से चर्चा करने के बाद डेलावेयर के विलमिंगटन में व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण के वितरण और कोरोना वायरस परीक्षण को लेकर ट्रम्प की ‘अक्षमता और बेईमानी’ का जिक्र किया . Also Read - अमेरिका में चुनावों से पहले व्हाइट हाउस में पहुंचा ये लिफाफा, जानें क्या मिला इसमें कि जांच करने लगी FBI

उन्होंने कहा कि अमेरिका ‘‘टीके को लेकर उन विफलताओं को दोहरा नहीं सकता.’’बाइडेन ने कहा, ‘‘मुझे टीके पर भरोसा है, मुझे वैज्ञानिकों पर भरोसा है लेकिन मुझे डोनाल्ड ट्रम्प पर भरोसा नहीं है, और इस समय अमेरिकी लोगों को भी (ट्रंप पर भरोसा) नहीं है. ’’ Also Read - व्हाइट हाउस में पहुंचा सीलबंद लिफाफा, ट्रंप प्रशासन के खोलने पर मचा हड़कंप, जांच में जुटी FBI

ट्रम्प ने बुधवार को दावा किया कि कोरोना वायरस का टीका मध्य अक्टूबर तक आ जाएगा. जबकि इससे पहले रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केन्द्र के निदेशक रॉबर्ट रेडफील्ड ने कांग्रेस की सुनवाई के दौरान कहा था कि अमेरिका के अधिकतर लोगों तक 2021 ग्रीष्मकाल से पहले टीका नहीं पहुंच पाएगा. अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में बाइडेन ओर ट्रम्प आमने-सामने हैं.