वॉशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि अमेरिका सऊदी अरब के पत्रकार जमाल खाशोगी की मौत के मामले की तह तक जाएगा. हालांकि, उन्होंने जोर देकर कहा कि सऊदी अरब शासन के आलोचक पत्रकार खाशोगी की मौत पर वैश्विक आक्रोश के बीच वह इस खाड़ी देश के साथ बड़े हथियार सौदे को रद्द नहीं करना चाहेंगे.

यह बहुत गंभीर बात है
सऊदी अरब ने शनिवार को एक बयान जारी कर कहा था कि दो अक्टूबर को तुर्की के इस्तांबुल स्थित उसके वाणिज्य दूतावास में ‘झगड़े’ के बाद खशोगी की मौत हो गई. हालांकि, सऊदी अरब ने यह नहीं बताया कि खशोगी का शव कहां है. ट्रंप ने शनिवार को नेवादा में पत्रकारों से कहा, ‘‘यह ऐसी चीज है जिसे हम पसंद नहीं करते. यह बहुत गंभीर बात है. हम इसकी तह तक जाएंगे और पता करेंगे.’’

राष्ट्रपति ने यह टिप्पणी उस वक्त की जब उनके उस बयान के बारे में पूछा गया, जिसमें उन्होंने कहा था कि खशोगी की मौत के मामले में सऊदी अरब को गंभीर नतीजे भुगतने होंगे. ट्रंप ने यह भी कहा कि इसमें अमेरिकी संसद (कांग्रेस) को भूमिका निभानी होगी. उन्होंने कहा, ‘‘हमें क्या करना है, यह तय करने में कांग्रेस की भूमिका होगी.’’ एक सवाल के जवाब में अमेरिकी राष्ट्रपति ने संकेत दिए कि सऊदी अरब के खिलाफ कार्रवाई तय करने के मामले में वह अमेरिकी कांग्रेस के सदस्यों को ही अग्रणी भूमिका निभाने देंगे.

सऊदी अरब बड़ा सहयोगी है
बहरहाल, उन्होंने जोर देकर कहा कि वह सऊदी अरब के साथ 450 अरब अमेरिकी डॉलर के हथियार और निवेश सौदे को रद्द नहीं करना चाहेंगे, क्योंकि इससे अमेरिका में छह लाख नौकरियों पर असर पड़ेगा.
राष्ट्रपति ने कहा कि वह उन प्रांतों से भी बात कर रहे हैं जहां नौकरियों पर असर पड़ सकता है. ट्रंप ने कहा कि वह जिन चीजों पर विचार कर सकते हैं उनमें ‘‘प्रतिबंध’’ भी शामिल है. उन्होंने कहा, ‘‘हो सकता है. हम पता लगा लेंगे. हम पता लगा लेंगे कि कौन क्या कहां जानता है.’’

वैश्विक शांति के लिए ट्रंप व किम फिर कर सकते हैं मुलाकात: व्हाइट हाउस

राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘सोमवार तक मुझे काफी कुछ पता चल सकता है. मैं पहले से ही काफी कुछ जानता हूं. हम अगले दो-तीन दिनों में जान जाएंगे. हम काफी कुछ जान लेंगे. हमें काफी सूचनाएं मिल रही हैं.’’
सऊदी अरब को ‘‘बड़ा सहयोगी’’ करार देते हुए ट्रंप ने कहा कि वह अमेरिका में बड़ा निवेशक भी रहा है. ट्रंप ने कहा, ‘‘उन्होंने निवेश किया और यहां नौकरियां हैं. अभी हम दुनिया में ऊर्जा के सबसे बड़े आपूर्तिकर्ता हैं. हम संयुक्त राज्य अमेरिका हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन अब भी वे बड़े आपूर्तिकर्ता हैं. वे असल में नंबर दो हैं और हमें इन चीजों को ध्यान में रखने की जरूरत है.’’

लापता पत्रकार मामला: खाशोगी के अवशेष दूतावास से बाहर ले जाने की संभावना: जांच अधिकारी

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘सऊदी अरब हमारा बड़ा सहयोगी रहा है. इसलिए यह बहुत दुखद है. देखिए कि ईरान में क्या चल रहा है. वहां के शासन का जहरीलापन देखिए. यह काफी क्रूर है. क्रूर शासन है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हत्या, डरावनी कहानियां, आप उन्हें सुनते हैं और उनके बारे में अच्छी तरह लिखते हैं. मैंने आपको उनके बारे में अच्छा लिखते हुए देखा है. यह दुनिया का सबसे मुश्किल हिस्सा है. इसमें कोई शक नहीं.’’ सऊदी शासन ने कहा है कि खशोगी की मौत के मामले में 18 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और गहराई से मामले की छानबीन की जा रही है. (इनपुट एजेंसी)