सोलः उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन की बहन प्योंगचांग विंटर ओलंपिक के लिए इस हफ्ते दक्षिण कोरिया का दौरा करेंगी. बुधवार को दी गई एक जानकारी के मुताबिक वह ऐसा करने  वाली सत्तारूढ़ परिवार की पहली सदस्य होंगी. दक्षिण कोरिया में शुक्रवार को होने वाले विंटर ओलंपिक गेम्स की ओपनिंग सेरिमनी में वह शामिल होंगी.एकीकरण मंत्रालय ने बताया कि सत्तारूढ़  वर्कर्स पार्टी की वरिष्ठ सदस्य किम यो जोंग इस शुक्रवार को प्योंगचांग जाने वाले उच्च-स्तरीय प्रतिनिधिमंडल का हिस्सा होंगी और इस प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व उत्तर कोरिया के प्रतीकात्मक  प्रमुख करेंगे. दोनों कोरियाई देश वर्ष 1953 में कोरियाई युद्ध के समाप्त होने के बाद से असैनिकीकृत क्षेत्र द्वारा विभाजित हैं.Also Read - शीतकालीन ओलंपिक खेलों का बहिष्कार करेगा अमेरिका, चीन ने दी जवाबी कार्रवाई की धमकी

पिछले वर्ष उत्तर कोरिया द्वारा कई परमाणु परीक्षण किए जाने के बाद से तनाव बढ़ गया था लेकिन ओलंपिक के चलते उसे मेल-जोल बढ़ाते हुए देखा गया. सोल में यूनिवर्सिटी ऑफ नॉर्थ कोरियन स्टडीज के प्रोफेसर यांग मू जिन ने कहा कि यह बहुत महत्त्वपूर्ण है कि किम परिवार का एक सदस्य इतिहास में पहली बार दक्षिण कोरिया आ रहा है. Also Read - Kim Jong: अमेरिका से गुस्से में है ये तानाशाह, कहा- कुछ ऐसा करूंगा कि भिड़ने की हिम्मत नहीं होगी

उनके दौरे के ऐलान के बाद दक्षिण कोरिया में इस बात की चर्चा है कि शायद किम जोंग-उन दोनों देशों के रिश्ते सुधारने को लेकर गंभीर हैं. किम यो-जोंग के अपने भाई के काफी करीब हैं और माना जा रहा है कि वो अपने भाई को कोई संदेश लेकर आएंगी. उन्होंने बताया कि किम यो जोंग दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेइ-इन से मिलकर उन्हें अपने भाई का निजी पत्र दे सकती हैं जिसमें उन्होंने ओलंपिक की सफल मेजबानी की उम्मीद जाहिर की है और अंतर कोरियाई संबंधों को बेहतर बनाने की इच्छा जताई है. Also Read - North Korea: पूर्व राजनयिक का दावा 'कोमा' में है तानाशाह, बहन किम यो जोंग को मिली सत्ता की ताकत