Omicron कितना घातक, जानें Corona के इस वेरिएंट के बारे में अलर्ट करने वाली डॉक्टर की इस पर क्या है राय

कोरोना के Omicron वेरिएंट के बारे में दुनिया को अलर्ट करने वाली डॉक्टर एंजेलिक कोएत्जी (Angelique-Coetzee) का कहना है कि उन्होंने पिछले 10 दिनों में लगभग 30 मरीजों को देखा है. ये सब कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) थे. इन सभी में कुछ अलग से लक्षण दिखाई दे रहे थे.

Advertisement

Omicron: कोरोना के Omicron Variant को लेकर एक तरफ दुनियाभर के लोग दहशत में हैं. वहीं दूसरी ओर इस वेरिएंट को लेकर दुनिया को आगाह करने वाली दक्षिण अफ्रीका (South Africa) की डॉक्टर एंजेलिक कोएत्जी (Angelique-Coetzee) का कहना है कि इसके लक्षण बेहत हल्के हैं. उन्होंने रविवार को कहा कि Omicron वेरिएंट से संक्रमित लोगों में सिर्फ हल्के लक्षण दिखाई दे रहे हैं और ज्यादातर बिना अस्पताल में भर्ती हुए ही ठीक भी हो रहे हैं. इससे पहले कोएत्जी कह चुकी हैं कि Omicron के लक्षण Delta Variant के समान नहीं हैं. यह काफी हद तक Beta Variant से मिलता-जुलता है और आप लक्षणों में आसानी से चूक कर सकते हैं. उन्होंने कहा, मुझे लगता है कि दक्षिण अफ्रीका (South Africa) में जो हुआ वह यह है कि हमने पिछले आठ से दस हफ्तों में प्रति सप्ताह लगभग एक या दो रोगियों में कोविड से संबंधित लक्षणों को देखा है.”

Advertising
Advertising

एंजेलिक कोएत्जी (Angelique-Coetzee) ने न्यूज एजेंसी एएफपी से बातचीत में कहा, मैंने पिछले 10 दिनों में लगभग 30 मरीजों को देखा है. ये सब कोरोना पॉजिटिव (Corona Positive) थे. इन सभी में कुछ अलग से लक्षण दिखाई दे रहे थे. उन्होंने बताया कि युवा मरीजों के लिए यह लक्षण असामान्य थे. कोएत्जी ने बताया उन्होंने जिन मरीजों को देखा, उनमें से ज्यादातर की उम्र 40 वर्ष से कम थी. यही नहीं इनमें से आधे से ज्यादा लोगों को वैक्सीन (Corona Vaccine) भी नहीं लगी थी. इन मरीजों की मांसपेशियों में हल्का दर्द (Mussels Pain) , गले में खराश (Skin rash) और सूखी खांसी (Dry Cough) आम लक्षण थे. इसके अलावा कुछ मरीजों के शरीर का तापमान ज्यादा था. उन्होंने बताया कि इन मरीजों में लक्षण बहुत हल्के थे, जबकि इससे पहले के वेरिएंट्स से संक्रमित होने पर लक्षण अधिक गंभीर नजर आते थे.

दक्षिण अफ्रीका के शीर्ष स्वास्थ्य महासंघ ने रविवार को उन 18 देशों की भी खिंचाई की, जिन्होंने कोरोना वायरस के नए अत्यधिक संक्रामक स्वरूप ओमीक्रोन की आशंका पर देश पर यात्रा प्रतिबंध लगाए हैं. उसने कहा कि दुनिया को अगर महत्वपूर्ण चिकित्सा डाटा साझा करने में पारदर्शिता चाहिए तो उसे इस तरह की "बिना सोचे-समझे की गई प्रतिक्रिया" से बचना चाहिए.

यह भी पढ़ें

अन्य खबरें

पहली बार दक्षिण अफ्रीका में मिले कोरोना वायरस के नए स्वरूप (B.1.1.529) को शुक्रवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा "Variant of Concern" के रूप में नामित किया गया, जिसने इसे Omicron नाम दिया.

Advertisement

दक्षिण अफ्रीकी मेडिकल एसोसिएशन (एसएएमए) के अध्यक्ष एंजेलिक कोएत्जी ने कहा कि 18 देशों द्वारा दक्षिण अफ्रीका के लिए उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय समय से पहले लिया गया, क्योंकि अब भी इस बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं है कि यह स्वरूप कितना खतरनाक हो सकता है.

कोएत्जी ने खोज को बताने के फैसले का भी बचाव किया और कहा कि इसके लिए दक्षिण अफ्रीका की तारीफ की जानी चाहिए न कि उसे बदनाम करना चाहिए. उन्होंने टीवी समाचार चैनल न्यूजरूम अफ्रीका’ से कहा, “मेरा संदेह यह है कि क्योंकि हमारे वैज्ञानिक बहुत सतर्क हैं और पृष्ठभूमि में बहुत सी सीक्वेंसिंग कर रहे हैं, हो सकता है कि उन यूरोपीय देशों से लक्षणों के कारण चूक हुई हो.”

ब्रिटेन ने गुरुवार को घोषणा की कि दक्षिण अफ्रीका और पांच पड़ोसी देशों से सभी उड़ानों पर शुक्रवार से प्रतिबंध लगा दिया जाएगा. कई अन्य यूरोपीय देशों ने भी बाद में प्रतिबंधों की घोषणा की, जिनमें से अधिकांश ने संकेत दिया कि केवल उनके अपने नागरिकों को वापस आने की अनुमति होगी, बशर्ते वे पृथक-वास में रहेंगे. कई अन्य देशों ने अब अफ्रीकी राष्ट्र से उड़ानों को पूरी तरह से विनियमित या प्रतिबंधित करना शुरू कर दिया है.

कोएत्जी ने कहा, “Omicron के लक्षण Delta Variant के समान नहीं हैं. यह काफी हद तक Beta Variant से मिलता-जुलता है और आप लक्षणों में आसानी से चूक कर सकते हैं. मुझे लगता है कि दक्षिण अफ्रीका में जो हुआ वह यह है कि हमने पिछले आठ से दस हफ्तों में प्रति सप्ताह लगभग एक या दो रोगियों में कोविड से संबंधित लक्षणों को देखा है.”

कोएत्जी ने कहा कि उन्होंने कोविड-19 पर सलाहकार परिषद को सचेत करने का निर्णय लिया कि नए लक्षण हैं जो Delta Variant के लक्षणों से मेल नहीं खा रहे हैं.

(इनपुट - एजेंसियां)

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें मनोरंजन की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

Published Date:November 29, 2021 10:14 AM IST

Updated Date:November 29, 2021 10:14 AM IST

Topics