लंदन: पंजाब के पूर्व महाराजा रणजीत सिंह के लिए बनाया गया सोने के तार और रेशम से मढ़ा धनुष और तरकश भारतीय खजाने की उन अनमोल वस्तुओं में शामिल है जिन्हें इस महीने के अंत में नीलामी के लिए पेश किया जाएगा.

बेहद खूबसूरत तरकश के बारे में माना जाता है कि इसे सिख यौद्धा महाराजा रणजीत सिंह के लिए रस्मी मौकों पर पहनने के लिए बनाया गया था न कि जंग में. उन्हें पंजाब के शेर के तौर पर भी जाना जाता है. इसकी अनुमानित कीमत 80,000 से 120,000 पाउंड है और इसे 23 अक्टूबर को बॉनहम्स इस्लामिक एंड इंडियन आर्ट में नीलामी के लिए रखा जाएगा. बॉन्हम्स में इंडियन एंड इस्लामिक आर्ट के अध्यक्ष ओलिवर व्हाइट ने कहा कि यह शानदार चीज लाहौर के मशहूर खजाने की है. तमाम परिस्थितिजन्य साक्ष्य इस ओर इशारा करते हैं कि यह पंजाब के शेर रणजीत सिंह के लिए 1838 में बनाया गया था.

निक्की हेली भारत-अमेरिका संबंधों की बड़ी समर्थक, भारतीय-अमेरिकियों ने कहीं और ये बातें

भारत से जुड़ी अन्य वस्तुओं की भी होगी नीलामी
उन्होंने कहा कि तरकश को रस्मी मौकों पर पहनने के लिए बनाया गया था और ऐसा लगता है कि इसे शायद ही पहना गया है इसलिए यह बहुत अच्छी स्थिति में है. इसके अलावा लाहौर के खजाने से पन्ना और मोती जड़ित हार भी है जिसे नीलामी के लिए रखा जाएगा. यह महाराजा रणजीत सिंह की अंतिम पत्नी जिन्द कौर का है. इस हार की अनुमानित कीमत 80,000 से 120,000 पाउंड है. इसके अलावा भारत से जुड़ी अन्य वस्तुओं को भी नीलामी के लिए पेश किया जाएगा. (इनपुट एजेंसी)