कुआलालंपुर: पूर्व गृह मंत्री मोहिउद्दीन यासीन को शुक्रवार को मलेशिया का नया प्रधानमंत्री नामित किया गया. शाही अधिकारियों ने यह जानकारी दी जो महातिर मोहम्मद के शासन के खात्मे और घोटालों के आरोपों से घिरी पार्टी के सत्ता में लौटने के संकेत देती है. राजमहल के अधिकारियों ने बताया कि मोहिउद्दीन रविवार को पद की शपथ लेंगे. इसी के साथ महातिर के प्रधानमंत्री के तौर पर इस्तीफा देने और सुधारवादी सरकार के गिरने के बाद एक हफ्ते तक चले सियासी संकट के भी समाप्त होने की संभावना है. Also Read - Coronavirus Updates: अफगानिस्तान, फिलीपींस, मलेशिया के यात्रियों के भारत आने पर रोक, कुआलालंपुर में 300 भारतीय फंसे

बता दें कि मलेशिया के नेता महातिर मोहम्मद ने शनिवार को इशारा किया था कि वह पूर्व सत्तारूढ गठबंधन के साथ मिलेंगे जिसका नेतृत्व उन्होंने प्रतिद्वंद्वी अनवर इब्राहिम के साथ किया था. महातिर ने अपनी सरकार गिराने की नाकाम कोशिश के बाद सोमवार को प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. Also Read - कोरोना वायरस के कारण अजलान शाह हॉकी टूर्नामेंट स्थगित, अप्रैल की जगह अब...

महातिर ने कहा कि उन्होंने अनवर के अलायंस ऑफ होप के नेताओं के साथ शनिवार को मुलाकात की और अब उन्हें विश्वास है कि प्रधानमंत्री के रूप में सत्ता में आने के लिए उनके पास पर्याप्त संख्या है. हालांकि अब इन सारी बातों पर विराम लगाते हुए मलेशिया के राजा ने पूर्व गृह मंत्री मोहिउद्दीन यासीन को मलेशिया का नया प्रधानमंत्री नामित कर दिया. Also Read - पाकिस्तान को नहीं बचा पाए मलेशिया और तुर्की! आतंकी फंडिंग को लेकर FATF की ग्रे लिस्‍ट में रहेगा पाक

(इनपुट ऐजेंसी)