संयुक्त राष्ट्र:  संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने म्यांमार में रोहिंग्या मुद्दे पर अपने विचार व्यक्त किए हैं. संयुक्त राष्ट्र ने सरकार से अनुरोध किया कि रोहिंग्या समुदाय के खिलाफ मानवाधिकार उल्लंघन के आरोपों की तफ्तीश में मदद करने के लिए वह अंतरराष्ट्रीय जांचकर्ताओं को देश में आने की इजाजत दे. परिषद ने कहा है कि वह रोहिंग्या समुदाय की दशा को लेकर बहुत चिंतित है. Also Read - Coronavirus Update: कोरोना कहीं बन ना जाए मानवाधिकार संकट, UN को हुई Human Rights की चिंता

म्यांमार के नेताओं को लिखे पत्र में परिषद ने हिंसा के सभी आरोपों की जांच करने की सरकार की प्रतिबद्धता को रेखांकित किया है. परिषद ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ स्वतंत्र और पारदर्शी जांच से उसकी प्रतिबद्धता एक ठोस कार्रवाई में तब्दील होगी. इसके अलावा इससे यह भी सुनिश्चित होगा कि मानवाधिकारों का उल्लंघन करने वाले सभी लोगों को जवाबदेह ठहराया जा सके.

परिषद ने म्यांमार सरकार से अनुरोध किया है कि वह रखाइन राज्य में संयुक्त राष्ट्र एजेंसियों और मानवीय संगठनों को तत्काल जाने की इजाजत दे.