इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज को सिहाला रेस्ट हाउस स्थानांतरित करने की संभावना नहीं है. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, इसका कारण हाई प्रोफाइल कैदियों के लिए उचित सुरक्षा व्यवस्था की कमी है.

जवाबदेही अदालत ने शरीफ और उनकी बेटी को दोषी ठहराया था और आदेश दिया था कि उन्हें लाहौर हवाई अड्डे पर हिरासत में लेने के बाद अदियाला जेल भेजा जाए और 13 जुलाई को अदालत के समक्ष पेश किया जाए. हालांकि, इस्लामाबाद के मुख्य आयुक्त ने भी सिहला पुलिस प्रशिक्षण कॉलेज के अंदर स्थित सिहाला रेस्ट हाउस में नवाज, मरियम और उनके (मरियम के) पति कैप्टन सफदर (सेवानिवृत्त) को स्थानांतरित करने का आदेश दिया था.

सुरक्षा कारणों से सिहाला जेल भेजे जाएंगे शरीफ और मरियम

डॉन न्यूज के अनुसार, अधिकारियों ने कहा कि रेस्ट हाउस शरीफ परिवार के लिए सुरक्षित नहीं है. रेस्ट हाउस में छह कमरे हैं. सभी कमरों में एयर कंडीशनर, आरामदायक बिस्तर और वाशरूम हैं, लेकिन कोई बाउंड्री वॉल नहीं है. रिपोर्ट ने अदियाला जेल के अधिकारियों के हवाले से कहा कि शरीफ को रेस्ट हाउस में स्थानांतिरत नहीं किए जाने का एक प्रमुख संकेत यह है कि अधिकारी पूर्व प्रधानमंत्री और उनकी बेटी की उचित सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए प्रांत में कहीं और खतरनाक कैदियों को स्थानांतरित करने पर विचार कर रहे हैं.

नवाज शरीफ का राजनीतिक करियर: तीन बार गिरे और संभले, लेकिन अब शायद ही उठ पाएं

अधिकारी ने कहा कि मरियम को सिहाला रेस्ट हाउस में स्थानांतरित करने का दो-तीन बार प्रयास किया गया लेकिन उन्होंने वहां रहने से साफ इनकार कर दिया.