नई दिल्ली: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, उनकी बेटी मरियम नवाज और दामाद मुहम्मद सफदर पांच दिनों की पैरोल पूरी हो जाने के बाद सोमवार को वापस जेल पहुंच गए. यह पैरोल उन्हें शरीफ की पत्नी कुलसुम नवाज की अंत्येष्टि में शामिल होने के लिए दी गई थी.

जियो न्यूज के अनुसार, तीनों की पैरोल शाम चार बजे समाप्त हो गई, और तीनों को कड़ी सुरक्षा के बीच जेल स्थानांतरित किया गया, जहां वे जुलाई से ही सजा काट रहे हैं. सूत्रों के अनुसार, तीनों को एक विशेष उड़ान से लाहौर से रावलपिंडी ले जाया गया. शरीफ परिवार के तीन सदस्यों हमजा शहबाज, सलमान और यूसुफ अब्बास को उनके साथ लाहौर हवाईअड्डे के अंदर जाने की अनुमति दी गई थी.

ख़बर के अनुसार, पाकिस्तान मुस्लिम लीग (नवाज) के अध्यक्ष शहबाज शरीफ को विशेष उड़ान में उनके साथ रावलपिंडी तक जाने की अनुमति दी गई थी. दिन के प्रारंभ में शरीफ परिवार के सदस्य बेगम कुलसुम की कब्र पर गए. तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके नवाज की पत्नी का निधन कैंसर के कारण पिछले सप्ताह लंदन में हो गया था. उन्हें 14 सितंबर को लाहौर में सुपुर्द-ए-खाक किया गया था.

(इनपुट: एजेंसी)