काठमांडूः नेपाल ने कोरोना वायरस महामारी के कारण एवरेस्ट पर पर्वतारोहण अभियान शुक्रवार को स्थगित कर दिये. चीन के अपनी तरफ से एवरेस्ट पर चढ़ाई को बंद किए जाने के एक दिन बाद नेपाल ने दुनिया के सबसे बड़े पर्वत पर चढ़ाई को बंद कर दिया है. संस्कृति पर्यटन और नागरिक उड्डयन मंत्री योगेश भट्टराई ने बताया कि नेपाल ने देश में सभी पर्वतारोहण अभियानों को स्थगित कर दिया है और पर्यटक वीजा जारी करने की प्रक्रिया रोक दी है. Also Read - Coronavirus Lockdown: रामायण ने तोड़े TRP के सारे रिकॉर्ड, दोबारा प्रसारण के साथ मचाया तहलका

हिमालयी देश एवरेस्ट पर पर्वतारोहण से हर साल लाखों डॉलर की कमाई करता है. भट्टराई ने कहा, ‘‘सरकार ने सभी पर्वतारोहण अभियानों को स्थगित करने और कुछ समय के लिए मंजूरी रद्द करने का फैसला किया है. आने वाले महीनों में वैश्विक स्थिति का विश्लेषण करने के बाद फैसले की समीक्षा की जा सकती है.’’ Also Read - हर 100 साल में होती है कोरोना जैसी महामारी, आंकड़ें देख आप भी कहेंगे- ये प्रकृति का अपना तरीका है!

पिछले साल गर्मियों में रिकॉर्ड 885 लोगों ने एवरेस्ट पर चढ़ाई की थी. उस समय पर पर्वत पर 11 लोगों की मौत हुई थी जिनमें से कम से कम चार मौतें पर्वत पर अधिक भीड़ होने से हुई थी. नेपाल में कोरोना वायरस का अभी तक केवल एक मामला सामने आया है. Also Read - Coronavirus को लेकर राम गोपाल वर्मा ने किया भद्दा मज़ाक, यूजर्स बोले- थोड़ी तो शरम करो, पुलिस लेगी एक्शन

आपको बता दें कि पूरी दुनिया में कोरोना वायरस से हाहाकार मचा हुआ है. दुनिया का हर एक देश इससे बचने के लगातार उपाय कर रहे हैं. दुनिया के कई बड़े देशों ने अपने देश में विदेशियों के आने पर भी रोक लगा दी है. भारत में भी कोरोना के 70 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं.