काठमांडू: नेपाल के पूर्वी पहाड़ी क्षेत्र ताप्लेजुंग जिले में एक हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त हो जाने से देश के पर्यटन एवं नागर विमानन मंत्री रबींद्र अधिकारी और छह अन्य समेत 7 की मौत हो गई. पर्यटन मंत्री अन्य अफसरों के साथ पंचथर में चुहान दादा में एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद पाथिभारा मंदिर जा रहे थे, तभी येे हादसा हो गया. शासन घटनास्थल पर पहुंच गया है. इस बीच, प्रधानमंत्री कार्यालय और मंत्री परिषद ने कैबिनेट की आपात बैठक बुलाई है. Also Read - भारत न‍िभा रहा पड़ोसी धर्म, Covid-19 Vaccine के 30 लाख डोज नेपाल और बांग्‍लादेश को रवाना क‍िए

Also Read - Covid-19 Vaccine: इस देश को 10 लाख कोरोना वैक्सीन देगा भारत, गुरुवार को पहुंचेगी वैक्सीन की पहली खेप

VVIP हेलिकॉप्टर केस: राजीव सक्सेना ने सरकारी गवाह बनने की अर्जी दी Also Read - भारत अपने पड़ोसी देशों के लिए बना संकटमोचक, इन देशों को आज भेजे जाएंगे Vaccine

एक मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है. 39 वर्षीय अधिकारी के अलावा, एयर डेस्टिनी हेलि‍कॉप्टर में, नेपाल के प्रतिष्ठित नागर विमानन और आतिथ्य उद्यमी आंग त्सरिंग शेरपा ओर प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के निजी सहायक युवराज दहल, पर्यटन मंत्रालय के दो अफसर और मंत्री का एक अंगरक्षक सवार था.

सरकार ने कहा- हमारा एक पायलट गायब है, पाकिस्तान ने उसकी गिरफ्तारी का किया है दावा

पूर्वी नेपाल के पर्वतीय रेंज के ताप्लेजुंग जिले में एक पहाड़ी से टकराने के बाद हेलीकॉप्टर में आग लग गई. हिमालय टाइम्स ने एयर डेस्टिनी के एक अफसर के हवाले से बताया कि हेलीकॉप्टर में सवार सभी लोग दुर्घटना में मारे गए. इनमें पायलट प्रभाकर केसी भी शामिल हैं.

हेलीकॉप्टर के लापता होने की खबर आने के थोड़े समय बाद, पाथिभारा इलाके के निवासियों ने पुलिस को सूचित किया कि दुर्घटनास्थल पर आग की ऊंची लपटें उठ रही हैं.ताप्लेजुंग के मुख्य जिलाधिकारी अनुज भंडारी ने स्थानीय लोगों के हवाले से बताया कि उन्होंने पहले धमाके की तेज आवाज सुनी, जिसके बाद धुआं और आग की लपटें देखी.